Ghaziabad news- Corona को देखते हुए गाजियाबाद प्रशासन ने दिए सभी स्विमिंग पूल बंद करने के आदेश

गाजियाबाद प्रशासन का फैसला

गाजियाबाद प्रशासन का फैसला

गाजियाबाद प्रशासन ने कोरोना (Corona) के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सभी स्विमिंग पूल (Swimming Pool) को बंद करने का फैसला लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 6:28 PM IST
  • Share this:
गाजियाबाद. गाजियाबाद प्रशासन (Ghaziabad Administration) ने जिले में कोरोना (Corona) के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सभी स्विमिंग पूल (Swimming Pool) को बंद करने का फैसला लिया है. प्रशासन (Administration) ने इस संबंध में एजेंसियों को आदेश जारी किया है. साथ ही, यह भी कहा है कि अगर कोई स्विमिंग पूल इसके बाद भी चालू पाया गया तो संचालक के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई (action) की जाएगी.

गाजियाबाद जिले के डीएम अजय शंकर पांडेय द्वारा बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को देखते हुए और जिले के लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने के लिए सख्‍त कदम उठाए जा रहे हैं. इसी को ध्‍यान में रखते हुए डीएम ने मंगलवार को सोसाइटियों, क्‍लबों और स्‍कूलों में चल रहे स्विमिंग पूलों को तत्‍काल  प्रभाव से बंद करने के निर्देश दिए हैं. सभी इंसीडेंट कमांडरों से कहा गया है कि‍ वे अपने अपने क्षेत्रों में  स्विमिंग पूल के संचालन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाएं, ‍जिससे जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके.

डीएम ने सभी स्विमिंग पूल संचालकों को निर्देश देते हुए कहा है कि वे अपने-अपने स्विमिंग पूल तत्काल प्रभाव से बंद कराएं. जांच  के दौरान चालू पाए जाने पर  स्विमिंग पूल  संचालकों  को दोषी माना जाएगा और उन पर सख्‍त कार्रवाई की जाएगी. गाजियाबाद  प्रशासन जिले बढ़ते कोरोना संक्रामण को रोकने के लिए जांच बढ़ाने के साथ साथ चार  दिन  तक चलने वाले टीका उत्‍सव में अधिक संख्‍या में वैक्‍सीन  लगाने का लक्ष्‍य रखा  है.  इस संबंध में जिला अस्‍पताल के सीनियर फि‍जीशियन डा.आरपी  सिंह कहते  हैं कि प्रसाशन द्वारा लिया गया स्विमिंग पूल बंद करने का फैसला अच्‍छा है,  इससे कोरोना संक्रमण रोकने में मदद  मिलेगी. लोग एक साथ नहीं जुट पाएंगे. इस समय कोरोना की चेन रोकना सबसे जरूरी है. पानी में लोग छींकते हैं और लोगों के मुंह  व नाक से टच करता है, जिससे कोरोना फैलने की संभावना अधिक रहती है. दरअसल गर्मी बढ़ने के साथ जिले के तमाम स्विमिंग पूलों में लोगों  की भीड़ जुटने लगी थी, जिसे देखते हुए यह फैसला लिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज