परिजनों ने कोरोना संक्रमण से मरे अपनों का नहीं किया था अस्थि विसर्जन, गाजियाबाद प्रशासन कर रहा यह नेक काम

कोरोना के चलते मृत जिन लोगों की अस्थियों को उनके परिजन लेने नहीं आ रहे हैं गाजियाबाद जिला प्रशासन उनकी अंत्येष्टि करवा रही है

कोरोना के चलते मृत जिन लोगों की अस्थियों को उनके परिजन लेने नहीं आ रहे हैं गाजियाबाद जिला प्रशासन उनकी अंत्येष्टि करवा रही है

कोरोना से मृत (Corona Death) लोग जिनके कि अपने उनकी अस्थि विसर्जन करने नहीं आए, मानवीय दृष्टिकोण से गाजियाबाद प्रशासन द्वारा हिंडन शमशान घाट में पूर्ण विधि-विधान से बृजघाट गढ़मुक्तेश्वर गंगा घाट पर विसर्जन किया गया. उसके उपरांत गो ग्रास, गंगा ग्रास आदि कराते हुए गरीब बच्चों और लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ भोजन कराया गया

  • Share this:

गाजियाबाद. कोरोना संक्रमण (Corona Virus) के चलते मरने वाले लोगों के परिजनों द्वारा उनकी अस्थियों का विसर्जन करने से इनकार करने के बाद गाजियाबाद प्रशासन (Ghaziabad Administration) इस काम के लिए आगे आया है. प्रशासन की टीम श्मशान घाट से ब्रजघाट ले जाकर उनकी अस्थियां विसर्जन कर रहा है. ऐसे लोग जिनकी मृत्यु कोरोना (Corona Death) के कारण हो गई थी, उनकी अस्थियां लगभग डेढ़ दो माह से हिंडन श्मशान घाट (Hindon Crematorium) में इंतजार में रखी हुई हैं. मगर नगर निगम द्वारा संपर्क करने के बाद भी इन्हें लेने कोई नहीं आया है.

वहीं, लावारिस चार लोगों की अस्थियों को मानवीय दृष्टिकोण से नगर आयुक्त, नगर निगम गाजियाबाद से अनुमति लेने के बाद हिंडन शमशान घाट में पूर्ण विधि-विधान से बृजघाट गढ़मुक्तेश्वर गंगा घाट पर विसर्जन किया गया. उसके उपरांत गो ग्रास, गंगा ग्रास आदि कराते हुए गरीब बच्चों और लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ भोजन कराया गया.

इससे जहां मृत आत्माओं को शांति मिलेगी, वहीं, प्रशासन की इस पहल की लोग सराहना कर रहे हैं. जिस तरह कोरोना से जान गंवाने वाले लोगों की अस्थियों को उनके परिजन लेने से भी इनकार कर रहे हैं. ऐसे वक्त में गाजियाबाद प्रशासन ने सामने आकर इनकी अस्थियों का विसर्जन किया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज