गाजियाबाद: राज्यसभा सांसद की सुरक्षा ड्यूटी में तैनात कांस्टेबल ने गोली मारकर की खुदकुशी

उन्होंने बताया कि शव को अस्पताल में परीक्षण के लिए रखा गया है. (सांकेतिक फोटो)
उन्होंने बताया कि शव को अस्पताल में परीक्षण के लिए रखा गया है. (सांकेतिक फोटो)

कवि नगर ( Kavi Nagar) के एसएचओ नागेंद्र चौबे ने बताया कि घटना के बाद बागपत जिले के सरूरपुर गांव के निवासी 30 वर्षीय कांस्टेबल गौरव कुमार को अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

  • Share this:
गाजियाबाद. राज्यसभा सांसद अनिल अग्रवाल (Rajya Sabha MP Anil Aggarwal) की सुरक्षा में तैनात एक कांस्टेबल (Constable) ने कथित तौर पर खुद को गोली मारकर खुदकुशी (Suicide) कर ली. इस घटना से पुलिस- प्रशासन सकते में आ गया है. जानकारी के मुताबिक, कांस्टेबल ने गाजियाबाद जिले के कवि नगर में सांसद के आवासीय परिसर में ही खुद को गोली मारी है. पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी. वहीं, घटनास्थल से कोई सुसाइट नोट बरामद नहीं हुआ है.

कवि नगर के एसएचओ नागेंद्र चौबे ने बताया कि घटना के बाद बागपत जिले के सरूरपुर गांव के निवासी 30 वर्षीय कांस्टेबल गौरव कुमार को अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. उन्होंने बताया कि कुमार ने अपनी सर्विस बंदूक से खुद को गोली मार ली थी. उन्होंने बताया कि शव को अस्पताल में परीक्षण के लिए रखा गया है. घटनास्थल से कोई सुसाइट नोट बरामद नहीं हुआ है. मामले की जांच चल रही है.

राष्ट्रपति भवन में गोरखा राइफल्स के बैरक में आत्महत्या कर ली थी
बता दें कि बीते सितंबर महीने में कुछ इसी तरह की खबर दिल्ली में सामने आई थी. तब सेना के 40 वर्षीय एक जवान ने राष्ट्रपति भवन में गोरखा राइफल्स के बैरक में पंखे से लटककर कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी. पुलिस ने बताया था कि मृतक की पहचान तेक बहादुर थापा (Bahadur Thapa) के रूप में की गई है, जो नेपाल के तिखायान का रहने वाला था. वहीं, इस घटना की सूचना साउथ एवेन्यू पुलिस थाने को सुबह करीब चार बजे मिली थी.
अत्यधिक उच्च रक्तचाप की शिकायत थी


पुलिस के अतिरिक्त उपायुक्त (नयी दिल्ली) दीपक यादव ने बताया था कि जवान का शव गोरखा राइफल्स के बैरक में पंखे से लटका मिला है. तेक बहादुर के एक सहकर्मी ने शव को देर रात करीब साढ़े तीन बजे पंखे से लटका देखा और उसने इस बारे में जानकारी दी थी. बहादुर को दिल्ली छावनी के बेस अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया था. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया था कि प्रारम्भिक जांच में पाया गया है कि जवान को पीठ के निचले हिस्से में तेज दर्द और अत्यधिक उच्च रक्तचाप की शिकायत थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज