होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /गाजियाबाद में 50 से अधिक अस्‍पतालों ने की गड़बड़ी, रजिस्‍ट्रेशन तक हो सकता है निरस्‍त

गाजियाबाद में 50 से अधिक अस्‍पतालों ने की गड़बड़ी, रजिस्‍ट्रेशन तक हो सकता है निरस्‍त

अस्‍पतालों को नोटिस देकर 21 दिन का दिया गया समय.

अस्‍पतालों को नोटिस देकर 21 दिन का दिया गया समय.

गाजियाबाद स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अनुसार 50 से अधिक निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम को नोटिस जारी किया गया है. शासन को पूरे ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    गाजियाबाद. गड़बड़ी करने पर जिले के 50 से अधिक निजी अस्‍पताल और नर्सिंग होम पर कार्रवाई की तलवार लटक गयी है. इन अस्पताल संचालनकों ने जन्म-मृत्यु की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को मुहैया नहीं कराई है, अब इन्‍हें नोटिस जारी किया गया है. सीएमओ ने बताया कि 21 दिन के अंदर अस्पतालों ने जन्म-मृत्यु की जानकारी सीआरएस पोर्टल पर अपलोड नहीं की तो सभी का रजिस्ट्रेशन निरस्त कर दिया जाएगा.

    स्वास्थ्य विभाग पूरे जिले का डेटा शासन को भेजता है, जिसमें जन्म-मृत्यु की जानकारी सहित बच्चों के टीकाकरण की भी जानकारी होती है, लेकिन निजी अस्पतालों में यह आंकड़े भेजने में कोताही की जाती है. समय पर डाटा नहीं भेजा जाता है. माना जा रहा है कि सही आंकड़े न मिलने की वजह से योजना बनाने में परेशानी होती है. इस वजह से गाजियाबाद स्‍वास्‍थ्‍य विभाग इन पर कार्रवाई की तैयारी कर सकता है.

    गाजियाबाद स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अनुसार 50 से अधिक निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम को नोटिस जारी किया गया है. शासन को पूरे आंकड़े ना भेजने पर कई न बार विभाग को फटकार लग चुकी है. सीएमओ ने बताया कि निजी अस्पतालों में भी जन्म प्रमाणपत्र और मृत्यु प्रमाणपत्र बनते हैं लेकिन इस डेटा को निजी अस्पताल संचालक ऑनलाइन फीड नहीं कर रहे हैं. इसके लिए सीएमओ कार्यालय से पोर्टल आईडी और पासवर्ड भी दिया गया है.

    आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

    दिल्ली-एनसीआर
    दिल्ली-एनसीआर

    यह सभी आंकड़े 21 दिन के अंदर पोर्टल पर अपलोड करने होते हैं. में सीएमओ डॉ. भवतोष शंखधर के अनुसार जिन अस्‍पताल प्रबंधन ने जानकारी नहीं दी है, उन सभी चेतावनी दी गई है. तय समय के बाद कार्रवाई की जा सकती है.

    Tags: Ghaziabad News, Health Department

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें