गाजियाबाद: नगर निगम की आक्सीजन टाॅस्क फोर्स कोविड मरीजों को ऐसे पहुंचा रही है सांसें

कोरोना के होम आइसोलेशन वाले मरीजों को मिलेगी राहत

कोरोना के होम आइसोलेशन वाले मरीजों को मिलेगी राहत

Ghaziabad News: होम आइसोलेशन के कोरोना संक्रमित मरीजों ऑक्सीजन जल्दी मिल सके, इसके लिए गाजियाबाद नगर निगम ने संक्रमित मरीजों के सिलेंडर में ऑक्सीजन भरवाने का बीड़ा उठाया है. शहर में इसके लिए पांच सेंटर भी खोले हैं.

  • Last Updated: May 12, 2021, 6:07 PM IST
  • Share this:

गाजियाबाद. उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमितों के परिजनों को तुरंत ऑक्सीजन मिले, गाजियाबाद नगर निगम ने संक्रमित मरीजों के सिलेंडर में ऑक्सीजन भरवाने का बीड़ा उठाया है. इसके लिए शहर में पांच सेंटर भी खोले गये हैं, जहां पर ये प्रक्रिया चलती रहती है. गाजियाबाद प्रशासन की इस पहल को उत्तर प्रदेश सरकार ने पूरे प्रदेश में लागू करने का फैसला किया है.

गाजियाबाद नगर निगम की पांचों जोन में इस व्यवस्था को शुरू किया गया है. प्रशासन ने इसको नाम दिया है ऑक्सीजन टास्क फोर्स.. होम आइसोलेशन के मरीजों के परिजन अपने घर से खाली ऑक्सीजन सिलेंडर यहां पर लाते हैं और जमा कर देते हैं. जिसके बाद रजिस्टर में इनका नाम नोट होता है. इन्हें टोकन मिलता है और 6 से 7 घंटे में ऑक्सीजन सिलेंडर इसी सेंटर पर मुहैया करवाता है. एक दिन के भीतर 180 से 200 ऑक्सीजन सिलेंडर नगर निगम का हर सेंटर अपनी ओर से भरवाता है.

गाजियाबाद के नगर आयुक्त महेन्द्र सिंह तंवर ने इस पूरी योजना को तैयार किया है उनके मुताबिक गाजियाबाद में सीमावर्ती इलाका होने के नाते हमेशा संक्रमण का खतरा बहुत ज्यादा रहता है. ऑक्सीजन सप्लाई करने वाले सेंटर और नगर निगम के कर्मचारी के बीच पुख्ता तालमेल ही इस सिस्टम का प्रमुख आधार है. कोरोना संक्रमण के इस दूसरे दौर में देश के अन्य हिस्सों की तरह गाजियाबाद में भी ऑक्सीजन की मांग एकाएक बढ़ी है. ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनियों के सामने लोगों की लंबी कतारें लगती हैं जिससे कानून व्यवस्था बनाए रखने की प्रशासन के सामने चुनौती होती है और संक्रमण का भी बड़ा खतरा रहता है.

हफ्ते भर में कई मरीजों को पहुंचाई मदद 
नगर निगम की इस पहल से इन दोनों चुनौती से निपटा जा रहा है साथ ही प्रशासन के पास इस बात का भी रिकॉर्ड रहता है होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के पास कितना ऑक्सीजन गया है. नगर निगम की टीम इन खाली ऑक्सीजन सिलेंडर को पास ही की ऑक्सीजन फैक्ट्रियों और ऑक्सीजन प्लांट से भरवाती हैं और इन्हें मरीजों को सरकारी रेट पर मुहैया करवाती हैं. मरीजों को भी इस सुविधा से काफी ज्यादा लाभ पहुंच रहा है. ऑक्सीजन टास्क फोर्स को शुरू हुए करीब 1 हफ्ते का वक्त हो चुका है और कोरोना संक्रमण के इस दौर में जिस तरीके से होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को इसकी सुविधा मिल रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज