Home /News /delhi-ncr /

ऑस्‍ट्रेलिया में रहने वाले दोस्‍त ने दिया ठगी का आइडिया, फिर पति-पत्नी ने गैंग बनाकर 200 लोगों को कर दिया 'कंगाल'

ऑस्‍ट्रेलिया में रहने वाले दोस्‍त ने दिया ठगी का आइडिया, फिर पति-पत्नी ने गैंग बनाकर 200 लोगों को कर दिया 'कंगाल'

गाजियाबाद पुलिस ने कहा कि गैंग ने अश्लील वीडियो बनाकर पिछले दो साल में 22 करोड़ रुपये ठगे हैं. (फोटो-एसपी सिटी निपुल अग्रवाल)

गाजियाबाद पुलिस ने कहा कि गैंग ने अश्लील वीडियो बनाकर पिछले दो साल में 22 करोड़ रुपये ठगे हैं. (फोटो-एसपी सिटी निपुल अग्रवाल)

Ghaziabad Sextortion Case: गाजियाबाद की साइबर सेल (Cyber Cell) और नंद ग्राम पुलिस ने शुक्रवार को एक ऐसे गैंग का भंडाफोड़ किया था, जो कि शातिर अंदाज में सोशल साइट्स (Social Sites) के जरिए लोगों की अश्लील वीडियो (Porn Video) बनाकर ब्लैकमेल किया करता था. इस गैंग ने पिछले दो साल में 200 से ज्‍यादा लोगों से 22 करोड़ रुपये वसूले हैं. वहीं, गाजियाबाद पुलिस ने आरोपियों के चार बैंक अकाउंट जब्‍त कर लिए हैं.

अधिक पढ़ें ...

    गाजियाबाद. राजधानी दिल्‍ली से सटे यूपी के गाजियाबाद की साइबर सेल (Ghaziabad Cyber Cell) और नंद ग्राम पुलिस ने शुक्रवार को शातिर अंदाज में सोशल साइट्स के जरिए अश्लील वीडियो बनाकर लोगों को ब्लैकमेल करने वाले गैंग भंडाफोड़ किया था. वहीं, गाजियाबाद पुलिस ने इस मामले बड़ी कार्रवाई करते हुए गैंग के चार बैंक खाते जब्‍त कर लिए हैं, जिसमें करीब 3 करोड़ 80 लाख रुपये हैं. इसके अलावा पुलिस ने कहा कि इन लोगों ने पिछले दो साल में 200 से अधिक लोगों से अश्लील वीडियो बनाकर ब्‍लैकमेल करते हुए 22 करोड़ वसूले हैं.

    इस बाबत गाजियाबाद के सिटी एसपी निपुल अग्रवाल (City SP Vipul Agarwal) ने कहा कि अब तक हमें इस गैंग के 4 बैंक अकाउंट की सूचना मिल गई है. इन चार बैंक अकाउंट में लगभग 3.8 करोड रुपये का लेनदेन हुआ है. सभी अकाउंट जब्त कर लिए गए हैं. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि लोगों की अश्लील वीडियो बनाकर उनसे स्ट्रिपचैट के जरिए ब्लैकमेल कर पैसे ऐंठने वाले गैंग का संचालन एक दंपति कर रहा था. पुलिस ने इस मामले में पति और पत्‍नी के साथ तीन युवतियों को अरेस्‍ट किया है. इनके पास 8 बैंक अकाउंट थे.

    ऐसे चल रहा था गोरखधंधा
    गाजियाबाद पुलिस के मुताबिक, आरोपी योगेश अपनी पत्नी सपना अन्य युवतियों निकिता, निधि एवं प्रिया के साथ मिलकर लोगों को बड़े ही शातिर अंदाज में पहले वेबसाइट के जरिए अश्लील चैटिंग के लिए आमंत्रित करता था. उसके बाद लोगों को युवतियों का प्राइवेट नंबर देकर उनके साथ अश्लील चैटिंग के दौरान उनका वीडियो बना लिया करता था. इसके योगेश और उसकी पत्नी सपना का असली काम शुरू होता था. योगेश और सपना जिस व्यक्ति की अश्लील वीडियो बनाते थे, उसे ब्लैकमेलिंग का काम करते थे. उससे फर्जी अकाउंट में पैसे डलवा करते थे. इन लोगों ने अपना शिकार नासिक, दिल्ली, एनसीआर बल्कि अन्य राज्यों में भी बनाए हुए हैं. इन्होंने राजकोट गुजरात के रहने वाले तुषार नामक व्यक्ति से करीब 8 लाख अपने खातों में डलवा दिए थे, जिसका मुकदमा पीड़ित ने गुजरात में ही लिखवाया था. इसके बाद गुजरात पुलिस ने गाजियाबाद पुलिस से संपर्क किया तो मामले का खुलासा हुआ.

    ऑस्‍ट्रेलिया में रहने वाले दोस्‍त ने दिया था आइडिया
    पुलिस को पूछताछ में पता चला है कि इस पूरे गोरखधंधे की शुरुआत आरोपी योगेश की पत्नी सपना ने की. दरअसल सपना की दोस्ती ऑस्ट्रेलिया के रहने वाले शनि नामक एक युवक से फेसबुक के माध्यम से हुई थी और उसने ही ठगी का यह आइडिया दिया था. इसके बाद सपना ने अपना जाल बिछाना शुरू कर दिया. आरोपियों ने अलग-अलग जगह पर सोशल साइट के जरिए लोगों को खासकर लड़कियों को नौकरी के लिए बुलाया. 5000 वॉइस कॉलिंग एवं 20 से 25000 हजार रुपए वीडियो कॉल के नाम पर सैलरी देने की बात कही गई थी. बता दें कि जो लड़कियां काम करने आती थीं, पहले उनसे एक साइट के जरिए लोगों से अश्लील वीडियो कॉल कराया जाता था. बाद में वही लड़कियां उन लोगों को अपना प्राइवेट व्हाट्सएप नंबर, जो कि पूरी तरह फर्जी होता था दिया करती थी. इसके बाद इनका गोरखधंधा शुरू हो जाता था.

    Weather Alert: Delhi-NCR में फिर बदलेगा मौसम, IMD ने जारी किया येलो अलर्ट

    बहरहाल, गाजियाबाद पुलिस ने कहा कि अभी तक गैंग के 8 बैंक अकाउंट का पता चला है, जिनमें लोगों से पैसा ट्रांसफर करवाया था. इसमें से चार अकाउंट को जब्‍त कर लिया गया है, जिसमें तकरीबन तीन करोड़ 80 लाख रुपये हैं. इसके अलावा पुलिस ने इनके पास से कई मोबाइल फोन, चेक बुक पासपोर्ट, एटीएम कार्ड, पैन कार्ड, वेब कैमरा, आधार कार्ड, लैपटॉप, फेस मास्क, चांदी के जेवरात 8000 रुपये और अश्लील सामान भी बरामद किया है.

    Tags: Cyber Crime, Cyber Fraud, Cyber ​​Crime, Cyber ​​Thug, Ghaziabad News, Ghaziabad Police, Pornography Case

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर