• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • GOVERNMENT DIRECTED HOSPITALS TO GIVE UPDATES ABOUT BEDS IN EVERY 2 HOURS ON DELHI CORONA APP

दिल्ली कोरोना App पर हर 2 घंटे में बेड के बारे में अपडेट दें अस्पताल, सरकार ने दिया आदेश

केजरीवाल सरकार ने अस्पतालों को खाली बेड की जानकारी देने के निर्दश जारी किए हैं. (File)

Delhi Corona App: राजधानी में कोरोना संक्रमण की खबरों के बीच सरकार ने आज अस्पतालों को आदेश दिया है कि वे Delhi Corona App पर हर 2 घंटे में बेड की उपलब्धता की स्थिति के बारे में अपडेट करते रहें.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण के बीच ऑक्सीजन संकट से जूझ रही दिल्ली में मरीजों को अस्पतालों में बेड के लिए भी मारामारी करनी पड़ रही है. सरकार के तमाम दावों के बाद भी संक्रमित मरीज बेड के लिए परेशान हो रहे हैं. मरीजों को इसी परेशानी से बचाने के लिए अब दिल्ली सरकार ने  राजधानी के सभी अस्पतालों को बेड के बारे में खास निर्देश दिया है.

दिल्ली सरकार ने राजधानी के सभी अस्पतालों को आदेश दिया है कि वे दिल्ली कोरोना ऐप (Delhi Corona App ) पर हर 2 घंटे में बेड की उपलब्धता की जानकारी देते रहें. सरकार का मानना है कि इससे उन लोगों को मदद मिलेगी जिन्हें बेड की तलाश में इधर-उधर भटकना पड़ता है. दिल्ली सरकार का यह आदेश राजधानी के सभी अस्पतालों के लिए जारी कर दिया गया है. इसमें कहा गया है कि अस्पतालों को हर 2 घंटे के भीतर ये अपडेट करते रहना होगा कि उनके पास बेड की उपलब्धता की क्या स्थिति है.

निगरानी के लिए जिम्मेदारी तय

सरकार ने इसकी निगरानी के लिए जिम्मेदारी भी तय कर दी है. दिल्ली सरकार के आदेश के तहत अस्पताल बेड की डिटेल दिल्ली कोरोना ऐप पर डाल रहे हैं या नहीं, यह देखने का काम अस्पतालों में बनाए गए नोडल ऑफ़िसर और इंचार्ज का होगा. उन्हें इसका पूरा पालन करवाना होगा. आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने एक हजार से ज्यादा आईसीयू बेड तैयार करने की योजना पर काम शुरू कर दिया है.

ऑक्सीजन की सप्लाई के बाद 1200 बेड के लिए काम शुरू

कोविड महामारी से लड़ने के लिए केजरीवाल सरकार ने बीते दिनों घोषणा की कि अगले कुछ दिनों में दिल्ली के अंदर 1200 आईसीयू बेड तैयार कर लिए जाएंगे. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा था कि दिल्ली को ऑक्सीजन की पूरी सप्लाई नहीं मिल रही थी, जिसके कारण बेड कम पड़ने लगे थे. लेकिन गुरुवार को पहली बार दिल्ली के अस्पतालों के लिए केंद्र ने 730 टन ऑक्सीजन भेज दी. इससे राहत मिलेगी. सीएम ने केंद्र सरकार से अनुरोध किया था कि इस सप्लाई को बरकरार रखा जाए.
Published by:Nikhil Suryavanshi
First published: