Noida News: सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 12 लड़कियां और 11 लड़के अरेस्ट, 5 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

सेक्‍स रैकेट होटल में चल रहा था.

सेक्‍स रैकेट होटल में चल रहा था.

ग्रेटर नोएडा पुलिस (Greater Noida Police) ने एक हाई-प्रोफाइल सेक्‍स रैकेट (Sex Racket) का भंड़ाफोड़ करते हुए 13 लड़कियां और 11 लड़कों को गिरफ्तार किया है. जबकि इस मामले में चार कांस्टेबल और एक हेड कांस्टेबल के साथ पुलिस गाड़ी के चालक को लाइन हाजिर कर दिया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2021, 8:49 AM IST
  • Share this:
ग्रेटर नोएडा. उत्‍तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर की ग्रेटर नोएडा पुलिस (Greater Noida Police) ने एक सेक्‍स रैकेट (Sex Racket) का भंडाफोड़ किया है. इस दौरान पुलिस ने 12 लड़कियां और 11 लड़कों को गिरफ्तार किया है. यही नहीं, सिपाहियों पर भी इस हाई-प्रोफाइल सेक्‍स रैकेट में शामिल होने का आरोप है. जबकि इस घटना को लेकर गौतमबुद्ध नगर के कमिश्नर आलोक सिंह (Alok Singh) भी हैरान हैं.

नोएडा जोन के डीसीपी राजेश सिंह के मुताबिक, सेक्‍स रैकेट के भंडाफोड़ के बाद न सिर्फ 12 लड़कियों समेत 23 लोग गिरफ्तार हुए हैं बल्कि 4 कांस्टेबल और एक हेड कांस्टेबल के साथ पुलिस गाड़ी के चालक को लाइन हाजिर कर दिया गया.

न्यू क्राउन प्लाजा होटल में चल रहा था धंधा

ग्रेटर नोएडा की पुलिस जब दनकौर थाना क्षेत्र के चींटी इलाके में स्थित न्‍यू क्राउन प्‍लाजा होटल पहुंची तो वह हैरान रह गई. इस दौरान 12 लड़कियां और 11 लड़के संदिग्ध परिस्थिति में मिले. साफ है कि इस होटल में सेक्‍स का धंधा चल रहा था. ग्रेटर नोएडा तृतीय एसीपी बृजनंदन राय के नेतृत्व में पुलिस ने होटल में दबिश दी और 12 महिलाओं समेत 23 लोगों को गिरफ्तार किया. यही नहीं, इस सेक्‍स रैकेट में होटल का मैनेजर भी लिप्त पाया गया है.
दनकौर पुलिस को नहीं लगी भनक

सेक्‍स रैकेट के भंड़ाफोड़ की कार्रवाई की भनक दनकौर पुलिस को भी नहीं थी, क्‍योंकि स्‍थानीय पुलिस की भूमिका संदिग्ध नजर आ रही थी. बता दें कि इस मामले की जांच पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने शुरू की है. अब तक इस मामले में चार कांस्टेबल, एक हेड कांस्टेबल और एक ड्राइवर को लाइन हाजिर किया गया है. इसके अलावा अन्‍य संदिग्ध पुलिसकर्मियों पर जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी. यही नहीं, सेक्‍स रैकेट के खुलासे के बाद नोएडा जोन के डीसीपी राजेश सिंह ने एक संदिग्ध चौकी इंचार्ज के खिलाफ रिपोर्ट पुलिस कमिश्नर को भेज दी है. संभव है कि चौकी इंचार्ज पर भी गाज गिर सकती है. इसके अलावा दनकौर कोतावली और उसके आसपास की चौकियों में तैनात पुलिसकर्मियों की भूमिका की जांच की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज