लाइव टीवी

एक ऐसा झरना, जहां पानी नहीं बहती है ‘चॉकलेट’, लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नाम
Delhi-Ncr News in Hindi

Dharamvir Sharma | News18 Haryana
Updated: June 30, 2019, 7:37 PM IST

गुरुग्राम में एक निजी कंपनी ने एक अनोखा फाउंटेन बनाया है, जिसे ‘चॉकलेट फाउंटेन’ का नाम दिया गया है.

  • Share this:
हरियाणा के गुरुग्राम में एक निजी कंपनी ने एक अनोखा फाउंटेन बनाया है, जिसे ‘चॉकलेट फाउंटेन’ का नाम दिया गया है. यह ‘चॉकलेट फाउंटेन’ 200 किलो चॉकलेट के इस्तेमाल के साथ बनाया गया है. इस फाउंटेन का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हो गया है. इस फाउंटेन को बनाने के लिए 10 दिनों में 12 कर्मचारियों ने 10 लाख रुपये की लागत से तैयार किया गया है. इस ‘चॉकलेट फाउंटेन’ की ऊंचाई 2.9 मीटर है तो इसकी चौड़ाई 4.9 मीटर है.

200 किलो चॉकलेट से बनाया गया फाउंटेन

ये पहला चॉकलेट फाउंटेन है, जिसे 200 किलो चॉकलेट से बनाया गया है. इसे 12 लोगों ने 10 दिन में तैयार किया है और इसे बनाने में करीब 10 लाख रुपये का खर्च आया है. इस फाउंटेन में प्योर कोको का इस्तेमाल किया गया है. वहीं इस कंपनी ने चॉकलेट से कई ऐसे आकृतियां तैयार की है, जो काफी आकर्षक हैं.

लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नाम

इस अद्भुत फाउंटेन को देखने के लिए लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड की टीम भी गुरुग्राम पहुंची, जहां उन्होंने इस फाउंटेन को देखा और इस अद्भुत कलाकृति को खूब सराहा. बता दें कि इस फाउंटेन का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हो गया है. वहीं इस फाउंटेन को देखने जो भी गया, वो बस देखता ही रह गया.

यह भी देखें- VIDEO: इनके करतब देख रह जाएंगे दंग, लिम्का बुक में दर्ज है नाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 30, 2019, 7:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर