हरियाणा सरकार ने फिर घटाये RT-PCR टेस्ट के रेट, गुरुग्राम में लोगों को अब देने होंगे इतने...

कोरोना संक्रमण की जांच के लिए सबसे कारगर आरटी-पीसीआर टेस्ट को माना जाता है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कोरोना संक्रमण की जांच के लिए सबसे कारगर आरटी-पीसीआर टेस्ट को माना जाता है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

सरकार के द्वारा निर्धारित किए गए नए रेट के अनुसार आरटी-पीसीआर टेस्ट (RT-PCR Test) अधिकृत लैब, अस्पताल या कलेक्शन सेंटर पर जाकर करवाने पर 450 रूपए प्रति टेस्ट का शुल्क लिया जाएगा, और यदि मरीज के घर पर जाकर सैंपल (Sample) लिया जाता है तो उस परिस्थिति में 650 रूपए प्रति टेस्ट के हिसाब से चार्ज किए जाएंगे

  • Share this:

गुरुग्राम. कोरोना काल में हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने गुरुग्राम (Gurugram) की जनता को राहत दी है. जिले में कोरोना वायरस (Corona Virus) की जांच के लिए किए जाने वाले आरटी-पीसीआर टेस्ट (RT-PCR Test) के रेट कम कर दिए हैं. सरकार के द्वारा निर्धारित किए गए नए रेट के अनुसार आरटी-पीसीआर टेस्ट अधिकृत लैब, अस्पताल या कलेक्शन सेंटर पर जाकर करवाने पर 450 रूपए प्रति टेस्ट का शुल्क लिया जाएगा, और यदि मरीज के घर पर जाकर सैंपल (Sample) लिया जाता है तो उस परिस्थिति में 650 रूपए प्रति टेस्ट के हिसाब से चार्ज किए जाएंगे.

बुधवार को उपायुक्त यश गर्ग ने कहा कि कोरोना संक्रमण होने का संदेह होने पर अपना टेस्ट जरूर करवाएं. कोरोना संक्रमण की जांच के लिए सबसे कारगर आरटी-पीसीआर टेस्ट को माना जाता है. अब सरकार ने इसके अधिकतम रेट संशोधित कर के पहले की तुलना में कम कर दिए हैं, इससे अधिक कोई भी अस्पताल या लैब संचालक चार्ज नहीं कर सकता.

गुरुग्राम जिला प्रशासन ने सभी निजी अस्पतालों और प्राइवेट लैब को आदेश जारी करते हुए चेतावनी दी है कि इन आदेशों की अवहेलना करने पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 188 के तहत उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी. सरकार द्वारा यह निर्णय लंबे विचार-विमर्श, विशेषज्ञों की राय और अन्य राज्यों में तय आरटी-पीसीआर टेस्ट की दरों को देखते हुए आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत लिया गया है.

बता दें कि इससे पहले भी हरियाणा सरकार ने कोरोना टेस्ट की कीमतों में कमी की थी, और अब एक बार फिर से उसने दाम में कटौती की है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज