सीएम खट्टर ने इन तकनीकी विश्वविद्यालयों से किया करार, प्रदेश को मिलेगा ये फायदा

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की उपस्थिति में दीनबंधु छोटूराम विज्ञान और तकनीकी विश्वविद्यालय मुरथल के बीच एमओयू साइन हुआ है.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की उपस्थिति में दीनबंधु छोटूराम विज्ञान और तकनीकी विश्वविद्यालय मुरथल के बीच एमओयू साइन हुआ है. कुलपति प्रोफेसर डाॅ राजेंद्र अनायत व अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् के चेयरमैन प्रोफेसर अनिल डी सहस्त्रबद्धे ने नई दिल्ली में हरियाणा भवन में यह समझौता साइन किया.

  • Share this:
नई दिल्ली. दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं तकनीकी विश्वविद्यालय, मुरथल ( सोनीपत) में अटल अकादमी उन्नत प्रशिक्षण एवं अध्ययन अकादमी (Advance Training & Learning Academy) व आइडिया लैब( Idea Lab) की स्थापना की जाएगी. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की उपस्थिति में दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं तकनीकी विश्वविद्यालय, मुरथल के कुलपति प्रोफेसर डाॅ राजेंद्र अनायत व अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् के चेयरमैन प्रोफेसर अनिल डी सहस्त्रबद्धे ने नई दिल्ली में हरियाणा भवन में एक समझौता साइन किया. समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरण प्रक्रिया के दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि स्थापित होने वाली इस उन्नत प्रशिक्षण एवं अध्ययन अकैडमी व आइडिया लैब से प्रशिक्षण व अध्ययन को नई दिशाएं मिलेंगी.

वर्तमान समय में प्रयोग के महत्व व उपयोगिता को इंगित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रयोगशालाओं से नवाचार उत्पन्न होता है. खोज एवं नवीनता वर्तमान समय में जीवन का आधार हैं. मुख्यमंत्री ने आशा व्यक्त की कि इस अकादमी व लैब की स्थापना से प्रशिक्षण,खोज एवं नवीनता के क्षेत्र में नए कीर्तिमान स्थापित हो सकेंगे.

उल्लेखनीय है कि दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं तकनीकी विश्वविद्यालय,मुरथल में स्थापित किए जाने वाली उन्नत प्रशिक्षण एवं अध्ययन अकादमी को स्थापित करने के लिए प्रथम चरण में 30 करोड़ रुपये व द्वितीय चरण में 20 करोड़ रूपये खर्च किए जाएंगे. यह 50 करोड़ रूपये की राशि अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् द्वारा वहन की जाएगी. उन्नत प्रशिक्षण एवं अध्ययन अकादमी में शिक्षकों को प्रशिक्षण प्रदान किए जाएंगे. अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् द्वारा प्रशिक्षण गतिविधियों के लिए वित्त भी उपलब्ध करवाया जाएगा.

तकनीकी शिक्षा की गुणवत्ता में वृद्धि के लिए अटल अकादमी योजना पर विशेष कार्य किया जा रहा है. अटल अकादमी योजना के माध्यम से प्रमुख रूप से रोबॉटिक्‍स, आर्टिफिशल इंटेलिजेंस, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, ब्लॉक चेन, क्वांटम कंप्यूटिंग, साइबर सिक्युरिटी, डाटा साइंस, ऑग्मेंट रियेलिटी और थ्री डी प्रिंटिंग और डिजाइन के क्षेत्र में बढ़ावा दिया जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.