Farmers Protest: सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी कांग्रेस! बुलाया जाए विधानसभा का विशेष सत्र

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा.

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा.

Haryana Farmers Protest:किसान आंदोलन को लेकर कांग्रेस लगातार राज्यपाल से विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग कर रही है. उनसे मिलने के लिए लगातार वक्त मांगा जा रहा है. कल भी इसके लिए राज्यपाल से अनुरोध किया जाएगा. कांग्रेस विधायक सुबह 11 बजे तक राज्यपाल के बुलावे का इंतज़ार करेंगे. लेकिन अगर उन्होंने वक्त नहीं दिया तो एमएलए हॉस्टल से सभी विधायक राजभवन की तरफ शांति मार्च करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 4, 2021, 11:10 PM IST
  • Share this:

चंडीगढ़. हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा की अध्यक्षता में कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई. बैठक में फैसला लिया गया कि केंद्र के तीनों कृषि क़ानूनों (Farm Laws) को ख़ारिज करने के लिए हरियाणा विधानसभा में प्रस्ताव लाएंगे.


साथ ही एपीएमसी एक्ट (APMC Act) में संशोधन का बिल लाया जाएगा ताकि किसानों को एमएसपी (MSP) की गारंटी मिल सके और अगर कोई एमएसपी से कम पर किसान की फसल खरीदें तो उस पर कानूनी कार्रवाई हो सके.


चंडीगढ़ में हुई बैठक में सभी विधायकों ने एक बार फिर किसान आंदोलन को पूर्ण समर्थन के साथ पूर्ण सहयोग की प्रतिबद्धता दोहराई. हुड्डा ने कहा कि आंदोलन पूरी तरह गैर राजनीतिक है और किसान संगठन इसकी अगवानी कर रहे हैं. लेकिन कांग्रेस किसानों की मांगों और उनके शांतिपूर्ण आंदोलन के साथ मजबूती से खड़ी है.


हुड्डा ने कहा कि सरकार आंदोलन को दबाने के लिए जिस तरह के हथकंडे अपना रही है, उसकी सभी विधायकों ने निंदा की. अपनी मांगों के लिए आंदोलन करना किसानों का लोकतांत्रिक अधिकार है। ऐसे में आंदोलनकारियों को परेशान करने के लिए उनका इंटरनेट, बिजली, पानी कनेक्शन और साफ-सफाई की सुविधाएं बंद करना अमानवीय कार्य है. सरकार को तुरंत तमाम सुविधाएं फिर से शुरू करनी चाहिए.




Youtube Video

नेता प्रतिपक्ष ने बताया कि कांग्रेस लगातार राज्यपाल से विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग कर रही है. उनसे मिलने के लिए लगातार वक्त मांगा जा रहा है. कल भी इसके लिए राज्यपाल से अनुरोध किया जाएगा. कांग्रेस विधायक सुबह 11 बजे तक राज्यपाल के बुलावे का इंतज़ार करेंगे. लेकिन अगर उन्होंने वक्त नहीं दिया तो एमएलए हॉस्टल से सभी विधायक राजभवन की तरफ शांति मार्च करेंगे.


नेता प्रतिपक्ष ने दोहराया कि बीजेपी-जेजेपी गठबंधन सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है. इसलिए कांग्रेस आने वाले सत्र में सरकार के ख़िलाफ़ अविश्वास प्रस्ताव लाने जा रही है. अविश्वास प्रस्ताव से लोगों को पता चल जाएगा कि कौन-सा विधायक सरकार और कौन-सा विधायक जनता के साथ खड़ा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज