कानपुर शूटआउट: फरीदाबाद के होटल में हरियाणा पुलिस की दबिश, विकास दुबे के होने का शक
Kanpur News in Hindi

कानपुर शूटआउट: फरीदाबाद के होटल में हरियाणा पुलिस की दबिश, विकास दुबे के होने का शक
फरार अपराधी विकास दुबे (फाइल फोटो)

बताया जा रहा है कि हरियाणा पुलिस की टीम ने हाइवे के किनारे बने एक होटल में दबिश दी है. पुलिस को फरार विकास दुबे की मौजूदगी का अंदेशा है.

  • Share this:
दिल्ली. कानपुर (Kanpur) के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की शहादत के बाद मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey) की तलाश तेज हो गई है. इसी कड़ी में मंगलवार को हरियाणा पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई की है. हरियाणा पुलिस टीम ने फरीदाबाद के एक होटल में छापेमारी की है. मौके से पुलिस ने तीन आरोपियों को भी हिरासत में लिया है. बताया जा रहा है कि हरियाणा पुलिस (Haryana Police) की टीम ने हाइवे के किनारे बने एक होटल में दबिश दी है. पुलिस को विकास दुबे के होने का शक है. फिलहाल, पुलिस तफ्तीश कर रही है.

सूत्रों की मानें तो विकास दुबे फरीदाबाद से भी फरार हो गया है. कहा जा रहा है कि विकास दुबे एक होटल में छिपा हुआ था. मंगलवार सुबह ही वो होटल से निकल भागा. वहीं, विकास के कुछ गुर्गे होटल में ही छिपे हुए थे. ऐसी जानकारी मिल रही है कि सीआईए फरीदाबाद ने विकास दुबे के गुर्गे को पकड़ा लिया है. हालांकि, अभी कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है. बता दें कि फरीदाबाद का बड़खल चौक के पास एक होटल पर पुलिस ने छापेमारी की थी. इस दौरान राजस्थान सीआईए, उत्तर प्रदेश सीआईए और फरीदाबाद सीआईए की टीम मौजूद थी.

बाइक से घूम रहा है गैंगस्टर!



वरिष्ठ पुलिस सूत्रों के मुताबिक गैंगस्टर विकास दुबे कहीं भी आने जाने के लिए बाइक का इस्तेमाल कर रहा है. टेक्निकल सर्विलांस से ऐसी जानकारी मिली थी. बाइक से किसी भी गली-मोहल्ले में आने-जाने में दिक्कत नहीं होगी, इसलिए विकास दुबे इसका कार की जगह पर बाइक का प्रयोग कर रहा है. वहीं, फरीदाबाद होटल के सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ शख्स विकास दुबे है कि नहीं, इसका फिलहाल स्पष्ट तौर पर खुलासा नहीं हुआ है. स्पष्ट तौर पर कह नहीं सकता है कि ये तस्वीर गैंगस्टर विकास दुबे का ही है. दरअसल, CCTV वाली तस्वीर में दिख रहा ये शख़्स फरीदाबाद स्थित उसी होटल में रूम लेने गया था ,लेकिन उचित पहचान पत्र नहीं होने के कारण और संदिग्ध तरीके से बातचीत करने के मद्देनजर उसको वहां कमरा नहीं दिया गया. उसके थोड़ी देर के बाद ही पुलिस की टीम उसी होटल में दबिश देने पहुंची थी.
बदमाशों पर बड़ी कार्रवाई

मालूम हो कि कानपुर की वारदात के बाद यूपी सरकार ने अपना रुख सख्त कर लिया है. पिछले कुछ दिनों में 88 अपराधियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की गई और गैंगस्टर कानून से जुड़े विवादों में 26 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई. उत्‍तर प्रदेश के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया है कि राज्य सरकार पूरे प्रदेश में अपराधियों के खिलाफ अभियान चला रही है. इसके तहत पिछले एक हफ्ते के दौरान 67 मामलों में 88 व्यक्तियों पर रासुका की तामील की गई है.

सूत्रों के मुताबिक, सीसीटीवी फुटेज में गैंगस्टर विकास दुबे जैसा एक शख्स दिखा है.


120 मामलों में लगी रासुका

अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया है कि उत्‍तर प्रदेश में इस साल अब तक गोकशी के 63, बालिकाओं से संबंधित 3, गंभीर अपराध के 13 और 32 अन्य मामलों समेत कुल 120 मामलों में रासुका की कार्रवाई की गई है. जबकि पिछले एक सप्ताह के दौरान गैंगस्टर मामलों में भी प्रभावी कार्रवाई की गई है. इस दौरान विभिन्न जनपदों के जिलाधिकारियों ने गैंगस्टर कानून के तहत कुल 197 मामले अनुमोदित किए हैं. अपर मुख्य सचिव ने बताया है कि इस साल एक जनवरी से अब तक गैंगस्टर कानून के तहत 1889 मामले हो चुके हैं. गैंगस्टर वादों में इस सप्ताह कुल मिलाकर 26 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की गई है.

ये भी पढ़ें: बिहार के इस गांव का सरकार को अल्टीमेटम, पुल-सड़क नहीं बनाया तो..... 

एक्शन मोड में पुलिस

उत्तर प्रदेश के कानपुर के बिकरू कांड के बाद अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के अभियान के तहत बरेली पुलिस एक्शन में आ गई है. बहेडी थाना क्षेत्र के चुरैली डाम चौकी क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई है. इस मुठभेड़ में बदमाश पुलिस की गोली से घायल हो गया है. हालांकि, इस दौरान गोली लगने से दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं. पुलिस ने घायल बदमाश को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसके तीन साथी भागने में कामयाब रहे. सभी घायलों को बहेडी के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

ये भी पढ़ें: एक ही घर में रहते थे पति, पत्नी और 'वो', फिर आधी रात हुई एक हत्या, जानिए पूरा मामला

एसएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने बताया है की बदमाश आमिर नबाबगंज का निवासी है. आमिर के खिलाफ लूट, डकैती और हत्या के प्रयास व गैंगस्टर समेत 8 मुकदमें दर्ज हैं. आमिर नबाबगंज थाना क्षेत्र से वांक्षित चल रहा था जिसकी लंबे समय से पुलिस को तलाश थी. उन्होंने बताया कि आमिर अपने साथियों के साथ राह चलते लोगों से लूटपाट भी करता था. वहीं, घायल हुए पुलिसकर्मियों के नाम सकतावत सिंह और अंकुश हैं. पुलिस का दावा है कि जल्द तीन बदमाशों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading