दिल्‍ली के हर सरकारी अस्‍पताल में कम से कम छह कोरोना वैक्‍सीनेशन सेंटर बनाने के आदेश

दिल्‍ली के हर सरकारी अस्‍पताल में कम से कम छह कोरोना वैक्‍सीनेशन सेंटर बनाए जाएंगे.  (फोटोः AP)

दिल्‍ली के हर सरकारी अस्‍पताल में कम से कम छह कोरोना वैक्‍सीनेशन सेंटर बनाए जाएंगे. (फोटोः AP)

दिल्‍ली स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण विभाग के आदेश में आगे कहा गया है कि अस्‍पताल में बनाए गए हर सेंटर पर कम से कम 200 वैक्‍सीन लगाना भी जरूरी होगा. यह आदेश 22 मार्च तक सभी जगह लागू हो जाना चाहिए. अगर ऐसा नहीं होता है तो उसे गंभीरता से लिया जाएगा और कार्रवाई की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 19, 2021, 12:50 PM IST
  • Share this:

नई दिल्‍ली. कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए की जा रही सख्‍ती के साथ ही दिल्‍ली सरकार ने कोरोना वैक्‍सीनेशन (Corona Vaccination) को बढ़ाने के लिए भी कोशिशें शुरू कर दी हैं. इसी क्रम में दिल्‍ली के सभी सरकारी अस्‍पतालों (Delhi Government hospitals) को आदेश दिया गया है कि उनमें कोरोना वैक्‍सीनेशन सेंटर (Covid Vaccination Centres) बढ़ाए जाएं. इसके लिए 22 मार्च तक का समय दिया गया है.

दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण विभाग की ओर से जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि दिल्‍ली के हर सरकारी अस्‍पताल में कम से कम छह कोरोना वैक्‍सीनेशन सेंटर (CVC) बनाए जाएं. विभाग की ओर से कहा गया है कि कोरोना वैक्‍सीनेशन को तेज करने के लिए यह करना जरूरी है. इतना ही नहीं इन वैकसीनेशन सेंटरों पर कम से कम दो वैकसीनेटर भी तैनात होने चाहिए जो लोगों का टीकाकरण करेंगे.

आदेश में आगे कहा गया है कि अस्‍पताल में बनाए गए हर सेंटर पर कम से कम 200 वैक्‍सीन लगाना भी जरूरी होगा. यह आदेश 22 मार्च तक सभी जगह लागू हो जाना चाहिए. अगर ऐसा नहीं होता है तो उसे गंभीरता से लिया जाएगा और कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि कल ही दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने भी वैक्‍सीनेशन का समय बढ़ाने के लिए कहा है. उन्‍होंने कहा कि अब हर अस्‍पताल में 12 घंटे तक वैक्‍सीनेशन किया जाएगा. वैक्‍सीनेशन के समय को सुबह 9 बजे से रात के 9 बजे तक किया जाएगा. ताकि ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों को वैक्‍सीन दी जा सके.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज