होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने दी सलाह, वायु प्रदूषण से बचने के लिए गाजर खाएं

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने दी सलाह, वायु प्रदूषण से बचने के लिए गाजर खाएं

हर्षवर्धन ने ट्वीट कर कहा था, ‘गाजर खाने से शरीर को विटामिन ए, पोटेशियम और एंटीऑक्सीडेंट की भरपूर मात्रा मिलती है.

हर्षवर्धन ने ट्वीट कर कहा था, ‘गाजर खाने से शरीर को विटामिन ए, पोटेशियम और एंटीऑक्सीडेंट की भरपूर मात्रा मिलती है.

दिल्ली और दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) के लोग वायु प्रदूषण (Air Pollution) से परेशान हैं. इस बीच स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Health Minister Harsh Vardhan) ने वायु प्रदूषण से बचने के लिए लोगों को गाजर खाने (Eat carrots) की सलाह दी है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. दूषित हवाओं (Polluted Winds) की धुंध में घिरी दिल्ली (Delhi) के लोगों को वायु प्रदूषण (Air Pollution) से सेहत को होने वाली परेशानियों से बचने के लिए स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Health Minister Harsh Vardhan) ने गाजर (carrot) खाने का मशविरा दिया है. पेशे से चिकित्सक, हर्षवर्धन ने ट्वीट कर लोगों को सलाह दी है कि वायु प्रदूषण से सेहत को होने वाली बीमारियों से बचने के लिए गाजर और पोषक तत्वों से भरपूर भोजन लेना लाभप्रद होगा.

    डॉ हर्षवर्धन ने सोमवार को ट्वीट कर कहा, ‘वायु प्रदूषण के दुष्प्रभाव को निष्प्रभावी करने के लिए एक सकारात्मक कदम यह हो सकता है कि एंटीऑक्सीटेंट की प्रचुर मात्रा वाले खाद्य पदार्थों को अपने भोजन में शामिल करें. बेशक, समस्या का समाधान खुले में बाहर निकलने से खुद को रोकना या नियंत्रित करना मात्र है.’

    स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का ट्वीट


    इसके पहले रविवार को डॉ हर्षवर्धन ने ट्वीट कर कहा था, ‘गाजर खाने से शरीर को विटामिन ए, पोटेशियम और एंटीऑक्सीडेंट की भरपूर मात्रा मिलती है, यह भारत में व्यापक प्रभाव वाली आंखों की बीमारी रतौंधी से बचाता है. गाजर, सेहत के लिए प्रदूषण जनित व्याधियों से भी बचाने में सहायक है.’

    स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का ट्वीट, जिसमें उन्होंने गाजर खाने की सलाह दी


    उल्लेखनीय है कि दिल्ली में वायु प्रदूषण का स्तर पिछले तीन साल में रविवार को अपने उच्चतम स्तर पर था. केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के वायु गुणवत्ता सूचकांक पर दिल्ली में हवा की गुणवत्ता का सामान्य स्तर रविवार को शाम चार बजे 494 अंक पर पहुंच गया था. छह नवंबर 2016 को यह अपने उच्चतम स्तर 497 पर था. इसके मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में 12वीं कक्षा तक के सभी स्कूलों को मंगलवार तक के लिये बंद कर दिया गया है.

    Tags: Air pollution, Air pollution delhi, Delhi, Harsh Vardhan, Pollution

    अगली ख़बर