दिल्‍ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेन्द्र जैन बोले- लाखों केस आने पर भी कम्युनिटी स्प्रेड नहीं है तो फिर कब माना जाएगा

सत्येन्द्र जैन ने कहा है कि जब लाखों पॉजिटिव केस आ रहे हैं तो कम्युनिटी स्प्रेड मानने में क्या दिक्कत है.
सत्येन्द्र जैन ने कहा है कि जब लाखों पॉजिटिव केस आ रहे हैं तो कम्युनिटी स्प्रेड मानने में क्या दिक्कत है.

जब सेरो सर्वे में 25 फीसदी केस आ रहे हैं तो इसका मतलब 50 लाख लोग कोरोना पॉज़िटिव (Corona Positive) होकर ठीक हो चुके हैं तो कम्युनिटी स्प्रेड (Community spread) मान लेने में दिक़्कत उनको पता होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 7:10 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन (Satyendar Jain) का कहना है, “हम तो यह कई महीनों से कह रहे हैं कि है यह कम्युनिटी स्प्रेड है. लेकिन इतनी बडी संख्या में कोरोना पॉज़िटिव (Corona Positive) केस होने के बाद भी पता नहीं केन्द्र की क्या मजबूरी है इसे मानने में. अगर लाखों के अंदर केस आ रहे है और लाखों के केस में भी कम्युनटी स्प्रेड नहीं माना जाता है तो फिर कब माना जायेगा”. कोरोना के कम्युनिटी स्प्रेड (Community spread) के संबंध में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन द्वारा दिए गए एक बयान के संबंध में सत्येन्द्र जैन ने यह बात कही है.

 कम्युनिटी स्प्रेड पर यह बोले थे केन्द्रीय मंत्री हर्षवर्धन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने रविवार को अपने एक बयान में कहा था कि कुछ इलाक़ों में कम्यूनिटी स्प्रेड जैसी स्थिति नज़र आ रही है. हर्षवर्धन का ये बयान उनके वीकली वेबिनार 'संडे संवाद' के दौरान एक सवाल के जवाब में आया था. उनसे सवाल किया गया था कि 'ममता बनर्जी ने कहा है कि राज्य में कम्यूनिटी स्प्रेड के उदाहरण देखने को मिले हैं.
यह भी पढ़ें: दिल्ली हिंसा: पुलिस ने 13 जोड़ी फीमेल अंडर गार्मेंट्स किए बरामद, 8 युवाओं के गैंग पर लूट का आरोप
क्या अन्य राज्यों में भी कम्यूनिटी ट्रांसमिशन है?' इस पर हर्षवर्धन ने जवाब देते हुये कहा कि पश्चिम बंगाल सहित विभिन्न राज्यों में अलग-अलग क्षेत्रों में कम्यूनिटी स्प्रेड की उम्मीद है, इसके विशेष रूप से घने क्षेत्रों में होने की उम्मीद ज्यादा है. हालांकि, यह देशभर में नहीं हो रहा है. यह सीमित राज्यों में होने वाले कुछ जिलों तक सीमित है.



आने वाली चौथे सेरो सर्वे की रिपोर्ट

स्वास्थ्य मंत्री सतेन्द्र जैन का कहना है कि मौजूदा वक्त में नियमों का पालन भी किया जाना चाहिये. कुछ दिन पहले सेरो सर्वे शुरू किया गया था जो अगले 2 या 3 दिन में ख़त्म हो जायेगा. उसके बाद हफ़्ते दस दिन में रिपोर्ट आयेगी. जो पिछली बार था वही 16 हज़ार के आसपास सैम्पल लिये गए हैं.

इसके अलावा त्यौहरों की वजह से अलग-अलग बाजारों में बढ़ रही भीड़ और इस दौरान कोविड नियमों का पालन करवाने के सवाल पर सत्येन्द्र जैन ने कहा कि सरकार ने सभी प्रोटोकॉल जारी किये है. त्यौहार के अंदर एक आदमी की गलती से 100 लोग पॉजिटिव हो सकते हैं. सभी लोग अगर मास्क लगायेंगे और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करेंगे तो इससे बचा जा सकता है. हम देख रहे हैं कि लोग मास्क लगा रहे है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज