मरकज मामला: आज होगी दिल्ली के साकेत कोर्ट में सुनवाई, इंडोनेशिया के जमाती के पास आखिरी मौका
Delhi-Ncr News in Hindi

मरकज मामला: आज होगी दिल्ली के साकेत कोर्ट में सुनवाई, इंडोनेशिया के जमाती के पास आखिरी मौका
कुल 955 विदेशी नागरिकों के खिलाफ क्राइम ब्रांच ने साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी. (फाइल फोटो)

मरकज मामला: अबतक 600 से ज्यादा तब्लिगियों (Tablighi Jamaat) की पेशी साकेत कोर्ट में हो चुकी है. इनमें से करीब 400 तब्लिगियों को कोर्ट ने क्राइम ब्रांच को पासपोर्ट (Passport) वापस करने का आदेश दे चुकी है. जिससे ये अपने वतन वापस जा सकें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 24, 2020, 11:37 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के निजामुद्दीन मरकज (Nizamuddin Markaz) मामले में 400 विदेशी जमाती अब अपने देश वापस जा सकेंगे. साकेत कोर्ट के आदेश के बाद उनके घर जाने का रास्‍ता साफ हुआ है. ये सभी 400 विदेशी जमाती अपनी सजा पूरी कर चुके हैं और तय जुर्माना भी अदा कर चुके हैं. वहीं इंडोनेशिया के जमाती जो निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुए थे, आज उनके लिए साकेत कोर्ट में आखिरी मौका है.

अनुमान लगाया जा रहा है कि आज अगर वो अपनी गलती मान लेते है तो उनके खिलाफ ट्रायल नहीं चलेगा और जैसे पिछले दिनों साकेत कोर्ट ने बाकी विदेशी जमातियों पर जुर्माना लगा कर, उन्हें सजा देकर राहत दे दी थी. वैसी ही राहत इन विदेशी जमातियों को भी मिल सकती है. जानकारी के मुताबिक अगर यह अपनी गलती मान लेते है तब कोर्ट इनको वीजा नियम और महामारी एक्ट से राहत दे सकती है.

साकेत कोर्ट में हो चुकी है 600 से ज्यादा तब्लिगियों की पेशी

बता दें कि अबतक 600 से ज्यादा तब्लिगियों की पेशी साकेत कोर्ट में हो चुकी है. इनमें से करीब 400 तब्लिगियों को कोर्ट ने क्राइम ब्रांच को पासपोर्ट वापस करने का आदेश दे चुकी है. जिससे ये अपने वतन वापस जा सकें. क्राइम ब्रांच ने कुल 955 विदेशी नागरिकों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी. वीजा नियम और महामारी एक्ट नियम तोड़ने का आरोप लगाया गया था.




इन मामलों में दर्ज का मुकदमा

निजामुद्दीन मरकज मामले में वीजा नियम, फॉरेन एक्ट नियम, महामारी एक्ट नियम तोड़ने की धाराओं में क्राइम ब्रांच ने मुकदमा दर्ज किया था. कोर्ट द्वारा चार्जशीट पर संज्ञान लेने के बाद इन सभी तब्लीगियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया था, जिसके बाद कोर्ट ने 5 हज़ार से 10 हज़ार तक का जुर्माना लगाकर उन्‍हें राहत दे दी थी. गुरुवार को भी साकेत कोर्ट में तब्लीगियों की पेशी है. कुल 955 विदेशी नागरिकों के खिलाफ क्राइम ब्रांच ने साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज