हार्ट रोग विशेषज्ञ डॉ के के अग्रवाल की हालत अभी स्थिर, कोई सुधार नहीं: परिजनों का बयान

डॉ. केके अग्रवाल का विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम इलाज कर रही है लेक‍िन अभी उनकी हालत स्थिर बनी हुई है.

डॉ. केके अग्रवाल का विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम इलाज कर रही है लेक‍िन अभी उनकी हालत स्थिर बनी हुई है.

कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. केके अग्रवाल के परिजनों की ओर से एक ब्यान जारी किया गया है, उन्होंने अनुरोध करते हुये कहा है कि हमने नोटिस किया है कि डॉ के के अग्रवाल के स्वास्थ्य के बारे में निराधार अफवाह फैलाई जा रही हैं जिसके कारण उनके परिवार और शुभचिंतकों को बहुत परेशानी हुई है.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश के जाने-माने कार्डियोलॉजिस्ट (Cardiologist) डॉ. केके अग्रवाल (Dr. KK Aggarwal) की तबीयत में अभी कोई सुधार नहीं है. एम्स (AIIMS) में भर्ती डॉ अग्रवाल का कोरोना (Corona) पॉजिटिव होने के बाद से इलाज चल रहा है और विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम उनका इलाज कर रही है. अभी उनकी हालत स्थिर बनी हुई है.

इस बीच डॉ. अग्रवाल के परिजनों की ओर से एक ब्यान जारी किया गया है, उन्होंने अनुरोध करते हुये कहा है कि हमने नोटिस किया है कि डॉ के के अग्रवाल के स्वास्थ्य के बारे में निराधार अफवाह फैलाई जा रही हैं जिसके कारण उनके परिवार और शुभचिंतकों को बहुत परेशानी हुई है.

बयान के मुताबिक यह कहा है कि आपको सूचित किया जाता है कि हालांकि डॉ. अग्रवाल इस समय कोविड-19 (COVID-19) संक्रमण से गंभीर रूप से जूझ रहे हैं. लेकिन विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक टीम उनका इलाज कर रही है और उनकी हालत स्थिर है. परिजनों ने अनुरोध किया है कि ऐसी किसी भी अफवाह पर विश्वास करने या साझा करने से बचें और उनके जल्दी स्वस्थ होने की प्रार्थना करें.

बताते चलें कि कुछ समय पहले ही वह कोरोना पॉजिटिव हो गए थे. उनकी पत्नी भी कोरोना पॉजिटिव हो गईं और वह होम आइसोलेशन में है. गत बुधवार को ज्यादा तबीयत खराब होने की वजह से उनको वेंटिलेटर पर शिफ्ट किया था. उसके बाद से हालत में कोई सुधार नहीं देखा गया है.

Youtube Video

बताया जाता है कि डॉ. अग्रवाल कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए दी जा रही वैक्सीन (Vaccine) की दोनों डोज भी लगवा चुके हैं. बावजूद इसके उनकी स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है.

इस बीच देखा जाए तो डॉ. अग्रवाल दिल्ली ही नहीं देश के दूसरे राज्यों में भी हार्ट से संबंधित सभी बीमारियों का अच्छे तरीके से सलाह देने और उनका इलाज कराने में पूरी मदद करते आए हैं.



कोरोना के दौरान भी वह लोगों को फ्री ओपीडी सेवा दे रहे थे. इतना ही नहीं वह लगातार लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करने के साथ-साथ उससे बचाव और इम्युनिटी को किस तरीके से मजबूत किया जा सके, इसको लेकर लगातार सोशल मीडिया पर वीडियो भी जारी करते रहे हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज