Delhi NCR Traffic Alert: दिल्‍ली से गाजियाबाद जाने की सोच रहे हैं तो पहले पढ़ लें यह जरूरी खबर, नहीं तो होगी परेशानी

गाजियाबाद प्रशासन के इस फैसले के बाद मंगलवार को गाजीपुर (Ghazipur) के समीप दिल्‍ली-गाजियाबाद बॉर्डर पर सुबह ही वाहनों का रेला लग गया.

गाजियाबाद प्रशासन के इस फैसले के बाद मंगलवार को गाजीपुर (Ghazipur) के समीप दिल्‍ली-गाजियाबाद बॉर्डर पर सुबह ही वाहनों का रेला लग गया.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. देश की राजधानी की सीमा से लगते गाजियाबाद (Ghaziabad) में दिल्‍ली से आने-जाने को लेकर बेहद सख्‍ती बरती जा रही है. सीमा को सील कर दिया गया है, ताकि आनावश्‍यक तरीके से लोग गाजियाबाद में प्रवेश न कर सकें. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए ऐसा किया गया है. हालांकि, जरूरी दस्‍तावेज और पास के साथ आने-जाने की छूट दी गई है. गाजियाबाद प्रशासन के इस फैसले के बाद मंगलवार को गाजीपुर (Ghazipur) के समीप दिल्‍ली-गाजियाबाद बॉर्डर (Delhi-Ghaziabad Border) पर सुबह ही वाहनों का रेला लग गया. सख्‍ती के कारण यहां गाड़ियों की लंबी-लंबी कतारें देखी गईं. भीषण गर्मी में लोग जाम में फंसे रहने को मजबूर हो गए.

    कहा जा रहा है कि दिल्ली यूपी बॉर्डर पर दिल्ली की तरफ जाने वाले वाहनों का लंबा जाम लगा हुआ है, जिसमें एक एंबुलेंस फंसी हुई थी. इसके बाद दिल्ली ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने उस एंबुलेंस को तुरंत रास्ता देकर बाहर निकाला. 3 दिन की छुट्टियों के बाद आज दिल्ली में दफ्तर खुल गए हैं, जिसकी वजह से लोग आज दिल्ली में अपने दफ्तरों की तरफ और कामकाज की तरफ जा रहे हैं. यही वजह है कि गाड़ियों का लंबा जाम लग गया है.

    दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर को एक बार फिर से सील
    वहीं, कल खबर सामने आई थी कि दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर को एक बार फिर से सील कर दिया गया है. कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए गाजियाबाद के डीएम ने यह निर्णय लिया है. खास बात यह है कि दिल्ली से गाजियाबाद और गाजियाबाद से दिल्ली आने-जाने वाले लोगों को एक बार फिर से पास का ही सहारा लेना होगा. गाजियाबाद जिला प्रशासन ने कहा था कि जिन लोगों के पास होगा उन्हें ही गाजियाबाद सीमा में आने की इजाजत होगी. जरूरी सेवाओं से जुडे़ लोगों को इससे छूट मिलेगी.



    गाजियाबाद प्रशासन ने कही ये बात
    गाजियाबाद प्रशासन ने अपने आदेश में कहा है कि पिछले दिनों में कोरोना पॉजिटिव केसों में बढ़ोतरी हुई है. इन बढ़े हुए केसों में बड़ा हिस्सा गाजियाबाद-दिल्ली के बीच आवागमन करने वालों से संबंधित है. इसलिए मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी गाजियाबाद के निवेदन पर जिला प्रशासन गाजियाबाद ने बॉर्डर सील करने का निर्णय लिया है.जिला प्रशासन ने कहा है कि 26 अप्रैल 2020 को जारी आदेश के अनुसार ही जिले में प्रतिबंध और शर्तें काम करेंगी. यही व्यवस्था अगले आदेश तक जारी रहेगी. एम्बुलेंस, भारी वाहन, ट्रकों से माल ढुलाई करने वाले वाहनों, बैंकिंग सुविधाओं से जुड़े वाहन और आवश्यक वस्तुओं और औषधियों से संबंधित वाहन बिना रोक-टोक गाजियाबाद जिले में आ-जा सकेंगे.

    19 और 20 मई को भी इन इलाकों में वाहनों का रेला लगा था
    बता दें कि जब से लॉकडाउन4.0 में छुट मिली है तब से दिल्‍ली से लगे नोएडा और गाजियाबाद (Noida and Ghaziabad) की सीमा पर जाम की समस्‍या गहराने लगी है. बीते दिनों भी कई बार सुबह से ही गाजीपुर बॉर्डर और कालिंदी कुंज रूट पर वाहनों की लंबी कतारें लग गई थीं. कालिंदी कुंज रूट से बड़ी तादाद में लोग दिल्‍ली से नोएडा जाते हैं. वहीं, गाजीपुर बॉर्डर से भी बड़ी संख्‍या में नौकरीपेशा लोग गाजियाबाद और नोएडा के लिए जाते हैं. ऐसे में बीते गुरुवार सुबह में इन दोनों मार्ग पर लंबा जाम लग गया था. इससे पहले 19 और 20 मई को भी इन इलाकों में वाहनों का रेला लगा था.

    ये भी पढ़ें- 

    Corona side effects: जयपुर में सैलून कर्मचारी PPE किट पहनकर कर रहे हेयर कटिंग

    Udaipur: कोरोना ने छीन ली दुनिया के खूबसूरत शहर 'Lake City' की रौनक