Ghaziabad News: ब्‍लैक, व्‍हाइट और यलो फंगस के बाद मिला नया वायरस, कोरोना मरीजों के लिए है सबसे ज्‍यादा खतरनाक

गाजियाबाद के अस्‍पताल में हर्पीज़ सिम्पलेक्स वायरस का मामला सामने आया है.

गाजियाबाद के अस्‍पताल में हर्पीज़ सिम्पलेक्स वायरस का मामला सामने आया है.

Herpes Simplex Virus in Ghaziabad: यूपी के गाजियाबाद में कोरोना वायरस के साथ ब्‍लैक, व्‍हाइट और यलो फंगस के बाद हर्पीज़ सिम्पलेक्स वायरस मिलने से हड़कंप मच गया है. इस समय गाजियाबाद में एकमात्र मामला सामने आया है.

  • Share this:

गाजियाबाद. देश की राजधानी दिल्‍ली से सटे यूपी के गाजियाबाद में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बाद ब्‍लैक, व्‍हाइट और यलो फंगस (Yellow Fungus) के बाद नया वायरस मिलने से हड़कंप मच गया है. इसके साथ डॉक्टर का दावा है कि देश में पहला हर्पीज़ सिम्पलेक्स वायरस (Herpes Simplex Virus) गाजियाबाद के एक मरीज में मिला है. यही नहीं, डॉक्‍टर ने इसे बेहद खतरनाक भी बताया है.

डॉक्‍टरों मुताबिक, कोरोना के बाद जिनकी इम्‍युनिटी कम रहती है या फिर वह किसी अन्य बीमारी से ग्रसित हैं, उन्‍हें ये वायरस अपना शिकार बनाता है. जबकि इसका इलाज भी काफी महंगा है. साफ है कि देश में कोरोना वायरस के बाद ब्‍लैक फंगस, व्‍हाइट फंगस और यलो फंगस के बाद अब इस नए वायरस के मिलने से हड़कंप मचा हुआ है. जबकि इसे सबसे ज्‍यादा घातक बताया जा रहा है.

डॉक्‍टर ने कही ये बात

गाजियाबाद के डॉक्टर बीपी त्यागी ने जानकारी देते हुए बताया कि गाजियाबाद में देश का पहला हर्पीज़ सिंपलेक्स वायरस पाया गया है, जोकि मरीज की नाक में पाया गया है. यह बेहद ही खतरनाक है. अगर इलाज में देरी की जाती है, तो यह कोरोना वायरस से भी ज्यादा घातक हो सकता है. डॉक्टर बीपी त्यागी ने बताया कि यह वायरस जिनकी इम्‍युनिटी कमजोर होती है या फिर दूसरी बीमारियों से ग्रसित होते हैं, उनके लिए यह ज्‍यादा घातक है.
डॉक्टर बीपी त्यागी के मुताबिक, गाजियाबाद के मोदीनगर के रहने वाले विवेक त्यागी को यह वायरस हुआ है, जिसका इलाज लगातार हमारे अस्पताल में किया जा रहा है. हालांकि इसका इलाज भी बेहद महंगा होता है. वैसे इस बीमारी की दवाइयां हमारे पास हैं, इसलिए विवेक का इलाज संभव है. इसके साथ डॉक्‍टर ने कहा कि लोगों को जागरूक होने की जरूरत है क्योंकि जो कोरोना वायरस से ठीक हो रहे हैं उन लोगों को इस तरह की बीमारी होने का पूरा खतरा बना हुआ है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज