2 बार फेल हुए छात्रों को हाईकोर्ट ने दी राहत, स्कूल से निकालने वाले दिल्ली सरकार के आदेश पर रोक
Delhi-Ncr News in Hindi

2 बार फेल हुए छात्रों को हाईकोर्ट ने दी राहत, स्कूल से निकालने वाले दिल्ली सरकार के आदेश पर रोक
दिल्ली हाईकोर्ट ने आरएफएल गबन मामले में फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रवर्तक मलविंदर सिंह की याचिका पर शुक्रवार को आदेश सुरक्षित रख लिया. (फाइल फोटो)

हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार को नोटिस जारी कर पूछा है कि ऐसा सर्कुलर सरकार ने क्यों जारी किया और इसके बाद सरकारी स्कूलों से कितने बच्चों को निकाला गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2019, 11:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले 9वीं से 12वीं तक के छात्रों को बड़ी राहत दी है. हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार (Delhi Government) के उस सर्कुलर पर रोक लगा दी है जिसमें इन कक्षाओं में दो बार फेल होने वाले छात्रों को स्कूल से निकालने और दोबारा प्रवेश न देने का आदेश था. इसके साथ ही हाईकोर्ट ने केजरीवाल सरकार को नोटिस जारी कर मामले में अगली सुनवाई के दौरान दाखिल करने का भी आदेश दिया है. अब मामले की अगली सुनवाई 16 दिसंबर को होगी.

सरकार बताए कितने बच्चों को स्कूल से निकाला
हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार को नोटिस जारी कर पूछा है कि ऐसा सर्कुलर सरकार ने क्यों जारी किया और इसके बाद सरकारी स्कूलों से कितने बच्चों को निकाला गया. कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए सरकार को सख्त आदेश दिया कि इस संबंध में अगली सुनवाई पर कोर्ट में अपना जवाब दाखिल करें. इसके साथ ही कोर्ट ने उन दो बच्चों को तुरंत स्कूल में फिर दाखिला देने का भी आदेश दिया जिन्होंने हाईकोर्ट में सरकार के इस सर्कुलर के खिलाफ याचिका दाखिल की थी.

कई बच्चों को स्कूल से निकाला
केजरीवाल सरकार ने 27 अगस्त 2018 को यह सर्कुलर जारी किया था. इसमें कहा गया था कि दो बार फेल हो चुके बच्चों को सरकारी स्कूल से निकाला जाएगा और फिर दाखिला नहीं मिलेगा. इसके बाद कई बच्चों को स्कूल से निकाल दिया गया था. इसके बाद विवेक विहार के दो बच्चों ने सर्कुलर के खिलाफ याचिका दायर की थी. इन दोनों को भी स्कूल से निकाल दिया गया था.



ये भी पढ़ें - दिल्ली: पत्नी के साथ मिलकर बेटे ने मां-बाप को घर से निकाला, पड़ोसी दे रहे खाना

DDA का बड़ा फैसला, अब निजी जमीन पर भी खोल सकेंगे पेट्रोल पंप-CNG स्टेशन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज