लाइव टीवी

CAA Protest: शाहीन बाग में धरने के खिलाफ प्रदर्शन, रास्‍ता खुलवाने के लिए सड़क पर उतरे लोग
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 2, 2020, 1:31 PM IST
CAA Protest: शाहीन बाग में धरने के खिलाफ प्रदर्शन, रास्‍ता खुलवाने के लिए सड़क पर उतरे लोग
शाहीन बाग में धरने के खिलाफ लोगों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है.

शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में कई हफ्तों से CAA और NRC के खिलाफ धरना प्रदर्शन चल रहा है. इसके कारण आवाजाही ठप है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 2, 2020, 1:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली.देश की राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में सीएए (CAA) के विरोध में कई हफ्तों से धरना चल रहा है. प्रदर्शनकारियों के बीच सड़क पर बैठने से यह रास्‍ता कई दिनों से बंद है. अब इस धरने के खिलाफ लोग सड़क पर उतर आए हैं. प्रदर्शनकारियों की मांग है कि शाहीन बाग का रास्ता खोला जाए. शाहीन बाग के विरोध में प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने बैरिकेडिंग कर दी है. मौके पर डीसीपी चिन्मय बिस्वास खुद मौजूद हैं. बैरिकेड्स की दूसरी तरफ सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने वाले जमा हैं तो दूसरी तरफ शाहीन बाग धरना का विरोध करने वाले आकर डट गए हैं. इससे वहां भारी भीड़ हो गई है और आम लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

बताया जा रहा है कि शाहीन बाग में जारी धरने के खिलाफ शुरू हुए विरोध प्रदर्शन में हिंदू सेना समेत अन्य संगठनों के लोग भी शामिल हैं. बता दें कि गत 29 जनवरी को हिन्‍दू सेना ने ऐलान कर दिया था कि वो लोग 2 फरवरी को शाहीन बाग को खाली करवाएंगे. संगठन ने इस बाबत एक प्रेस रिलीज जारी कर शाहीन बाग को विरोधियों का अड्डा बताया था. साथ ही उन्होंने कहा कि वहां मौजूद लोग पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं.

#Breaking- दिल्ली में शाहीन बाग के धरने के खिलाफ प्रदर्शन, बैरिकेड के पास सैकड़ो प्रदर्शनकारी जुटे@anuragdhanda pic.twitter.com/n4mEolXZQX




लोगों को करना पड़ रहा परेशानी का सामना
हिन्‍दू सेना की तरफ से जारी की गई प्रेस रिलीज में लिखा था, 'सीएए के बहाने शाहीन बाग रोड जाम कर लाखों लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, शाहीन बाग देश विरोधियों का अड्डा बन चुका है. ये धरना पीएफआई के ऑफिस के नीचे चल रहा है और पीएफआई का नाम देश में हिंसा फैलाने में भी सामने आया है. यह संगठन आतंकी संगठन सिमी का दूसरा रूप है.'पाकिस्तान की भाषा बोल रहे लोग
इसके अलावा जारी की गई प्रेस रिलीज में लिखा था कि शाहीन बाग में शामिल होने वाले लोग पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं. भारत को तोड़ने की बात करते हैं और हिंदुओं के खिलाफ जहरीले भाषण दिए जा रहे हैं. हिंदू सेना सभी राष्ट्रवादी संगठनों व आसपास के गांववासियों से अपील करती है कि सभी 2 फरवरी 2020 को 11 बजे शाहीन बाग रेड लाइट सरिता विहार पहुंच कर जिहादियों से रोड खाली कराएं.'

news18
हिन्दू सेना की तरफ से जारी की गई प्रेस रिलीज.


धरना खत्म कर लेने की मांग
बता दें कि शाहीन बाग में महिलाएं और बच्चे पिछले 50 दिन से ज्यादा समय से धरने पर बैठे हैं. वो चौबीसों घंटे यहां धरने पर बैठे रहते हैं. उनकी मांग है कि केंद्र सरकार सीएए को वापस ले. दूसरी तरफ दिल्ली पुलिस लगातार प्रदर्शनकारियों से आम जनता की परेशानियों को समझते हुए धरना खत्म कर लेने की मांग कर रही है.

ये भी पढ़ें: जामिया प्रशासन ने विश्वविद्यालय परिसर में प्रदर्शनों पर लगाई रोक, ये है वजह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 2, 2020, 12:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर