Home /News /delhi-ncr /

होमगार्ड मस्टररोल घोटाला: फर्जीवाड़े को उजागर करने वाले प्लाटून कमांडेंट ने ही लगाई थी दस्तावेजों में आग

होमगार्ड मस्टररोल घोटाला: फर्जीवाड़े को उजागर करने वाले प्लाटून कमांडेंट ने ही लगाई थी दस्तावेजों में आग

प्लाटून कमांडर राजीव कुमार

प्लाटून कमांडर राजीव कुमार

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि अभियुक्त पीसी होमगार्ड राजीव कुमार ने अबतक की पूछताछ में अपना अपराध स्वीकार करते हुये 18 नवंबर की रात का सम्पूर्ण घटनाक्रम विस्तार में बताया जो अब तक की जांच में पाए गए सीसीटीवी फुटेज व अन्य तथ्यों से पूरी तरह से मेल खाता है.

अधिक पढ़ें ...
नोएडा. होमगार्ड फ़र्ज़ी मस्टररोल घोटाला (Homegurads Duty Scam) में जिला कमांडेंट दफ्तर में दस्तावेजों में लगाई गई आग का खुलासा पुलिस (Police) ने कर दिया है. पुलिस के मुताबिक होमगार्ड घोटाले की शिकायत करने वाले प्लाटून कमांडर राजीव कुमार ने ही आग लगाई थी. राजीव कुमार 2009 से जिला कमांडेंट के पद पर तैनात हैं. एसएसपी नोएडा वैभव कृष्णा ने बताया कार्यवाई में हो रही देरी की वजह से लगाई यह आग लगाई गई थी.

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि अभियुक्त पीसी होमगार्ड राजीव कुमार ने अबतक की पूछताछ में अपना अपराध स्वीकार करते हुये 18 नवंबर की रात का सम्पूर्ण घटनाक्रम विस्तार में बताया जो अब तक की जांच में पाए गए सीसीटीवी फुटेज व अन्य तथ्यों से पूरी तरह से मेल खाता है. राजीव ने बताया कि वह वर्ष 2009 से गौतमबुद्धनगर में पीसी होमगार्ड के पद पर तैनात हैं. वे पिछले कुछ वर्षों से जनपद के होमगार्ड विभाग में फैले भ्रष्टाचार से तंग थे. जिस संबंध में कई बार उसके द्वारा तत्कालीन जिला कमान्डेंट होमगार्ड को तथा विभाग के उच्चाधिकारियों को भी शिकायत की, लेकिन कोई उचित कार्यवाई नहीं की गई. इसके विपरीत जनपद के होमगार्ड विभाग में तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा उन्हें ही निशाना बनाकर तरह-तरह से परेशान किया जाने लगा.

शिकायत पर कार्रवाई न होने से था परेशान

इसी वर्ष 2019 में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में भी जनपद गौतमबुद्धनगर से होमगार्ड की चुनाव डयूटी अन्य जनपदों में लगी. राजीव कुमार के अनुसार चुनाव डयूटी के दौरान होमगार्डस को जो भत्ता तथा एडवांस धनराशि दी जाती है, उसमें प्लाटून कमान्डर द्वारा तत्कालीन जिला कमान्डेंट होमगार्ड के संरक्षण में व्यापक स्तर पर अनियमितता की जा रही थी. जिसका उन्होंने विरोध किया. एक जिले में चुनाव ड्यूटी के दौरान प्रतिसार निरीक्षक व जिले के चुनाव कार्यालय में भी इसकी शिकायत की. जिस पर कोई कार्यवाई नहीं हुई. इसके विपरीत कुछ प्लाटून कमान्डरों द्वारा शिकायत करने को लेकर राजीव कुमार को डराया धमकाया गया. बार-बार शिकायत करने के बाद भी विभाग के द्वारा उचित कार्यवाई न होने के कारण माह जुलाई में राजीव कुमार ने एसएसपी नोएडा से शिकायत की. जिसमें जांच के बाद गौतमबुद्धनगर के होमगार्ड विभाग में व्याप्त भ्रष्टचार का खुलासा हुआ. आरोपी राजीव ने पूछताछ में स्वीकार किया है कि उसके द्वारा जो भी होमगार्ड डयूटी मस्टररोल बनाए गए उनमें भी अनियमितताएं की गई.

इसलिए लगाई आग

पीसी होमगार्ड राजीव कुमार ने पूछताछ में यह भी बताया कि उसके द्वारा माह जुलाई में की गई शिकायत की जांच में तत्कालीन जिला कमाण्डेंट होमगार्ड रामनारायण चौरसिया तथा पीसी होमगार्ड मोन्टू, शलैन्द्र, सत्यवीर आदि के पूर्ण रूप से दोषी पाये जाने के उपरान्त भी जब विभाग से उनके विरूद्ध अभियोग पंजीकृत करने की अनुमति न मिलने पर उन्हें लगा कि विभाग द्वारा अधिकारियों का बचाव किया जा रहा है. अभियुक्त के अनुसार वह इससे आहात था एवं उसे ऐसा लगा कि मात्र नीचे के कर्मचारियों के विरूध कार्यवाई होकर यह प्रकरण समाप्त कर दिया जाएगा. इसीलिए उसने मस्टररोल जला दिया, जिससे कि नीचे के कर्मचारियों के विरूद्ध भी कार्यवाई न हो.

ये भी पढ़ें:

UP : रात में पानी मांगती थी मां, बेटे की नींद टूटी तो गला घोंट दिया

हमीरपुर: गहरे नदी में जाल नहीं, मुंह और हाथों से पकड़ता है मछलियां, देखिए VIDEO

Tags: Noida news, Up crime news, UP police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर