ICMR ने कोरोना वायरस पर लगाम लगाने के लिए जांच रणनीति में किया संशोधन

सोलन में कोरोना संदिग्ध दंपति पर केस (प्रतीकात्मक फोटो)

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (Indian Council of Medical Research) की नई रणनीति का उद्देश्य कोरोना वायरस (coronavirus) के संक्रमण को फैलने पर और अधिक प्रभावी तरीके से लगाम लगाना तथा सभी मरीजों को बेहतर इलाज मुहैया कराना है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (Indian Council of Medical Research) ने कोरोना वायरस (coronavirus) को फैलने से रोकने की अपनी रणनीति में शनिवार को संशोधन किया है. परिषद ने कहा कि श्वसन संबंधी गंभीर बीमारी, सांस लेने में दिक्कत और बुखार तथा खांसी की शिकायत के साथ अस्पताल में भर्ती सभी मरीजों की कोविड-19 संक्रमण के लिए जांच की जाएगी.

    संपर्क में आए लोगों की 14वें और पांचवें दिन की जाए जांच
    आईसीएमआर के नए दिशा-निर्देशों में यह भी कहा गया कि संक्रमित लोगों के संपर्क में आने वाले लोगों की संपर्क में आने के पांचवें और 14वें दिन के बीच में जांच की जानी चाहिए, चाहे उनमें बीमारी के लक्षण दिखाई दें या न दें.

    रणनीति में किया सुधार
    बायोमेडिकल अनुसंधान की सर्वोच्च संस्था ने इस सप्ताह देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ने के मद्देनजर अपनी रणनीति में सुधार किया है. नयी रणनीति का उद्देश्य संक्रमण को फैलने पर और अधिक प्रभावी तरीके से लगाम लगाना तथा सभी मरीजों को बेहतर इलाज मुहैया कराना है.

    विदेश से आए बिना लक्षण वाले लोगों की भी की गई जांच
    अभी तक पिछले 14 दिनों में अंतरराष्ट्रीय यात्रा करने वाले बिना लक्षण वाले लोगों और बाद में लक्षण दिखने वाले लोगों की कोराना वायरस के लिए जांच की गई. प्रयोगशाला से संक्रमण की पुष्टि वाले मामलों के संपर्क में आने वाले और लक्षण दिखने वाले लोगों, लक्षण दिखने वाले और लक्षण नहीं दिखने वाले सभी स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ताओं की दिशा निर्देशों के अनुसार संक्रमण के लिए जांच की गई.

    समय-समय पर परामर्श जारी कर रहा है आईसीएमआर
    भारत में शनिवार को कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 258 हो गई. जांच के लिए परामर्श की समीक्षा की जा रही है और समय-समय पर उसकी जानकारी दी जा रही है. डीएचआर सचिव और आईसीएमआर डीजी द्वारा गठित और नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल की अध्यक्षता वाले राष्ट्रीय कार्य बल ने जांच रणनीति की समीक्षा की है.

    ये भी पढ़ें - 

    PM मोदी की बात न मान BJP सांसद ने सैकड़ों लोगों संग मनाया 'बलिदान दिवस'

    कोरोना इफेक्ट: गोरखनाथ और पाटेश्वरी मंदिर श्रद्धालुओं के लिए 31 मार्च तक बंद

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.