लाइव टीवी

IIMC के छात्रों का दावा- सस्ती शिक्षा पर की चर्चा तो मिला कारण बताओ नोटिस
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: February 10, 2020, 10:10 PM IST
IIMC के छात्रों का दावा- सस्ती शिक्षा पर की चर्चा तो मिला कारण बताओ नोटिस
पिछले साल दिसंबर महीने में आईआईएमसी के छात्रों ने शिक्षण शुल्क, हॉस्टल और मेस चार्ज में बढ़ोत्तरी के खिलाफ संस्थान परिसर में हड़ताल किया था. (फाइल फोटो )

नोटिस (Notice) में प्रशासन ने कहा है कि संकाय सदस्यों और प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा बार-बार परामर्श देने के बाद भी परिसर में ‘ छात्रों की तरफ से अनुशासनहीनता’ हुई.

  • भाषा
  • Last Updated: February 10, 2020, 10:10 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय जनसंचार संस्थान (IIMC) के 12 छात्रों का दावा है कि उन्हें सस्ती शिक्षा के संबंध में एक चर्चा आयोजित कराने पर प्रशासन की तरफ से कारण बताओ नोटिस (Notice) मिला है और उन्हें निलंबित (Suspended) कर दिया गया है.

नोटिस में प्रशासन ने कहा है कि संकाय सदस्यों और प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा बार-बार परामर्श देने के बाद भी परिसर में ‘ छात्रों की तरफ से अनुशासनहीनता’ हुई. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में फीस वृद्धि के खिलाफ शुरू हुआ विरोध पड़ोस में स्थित आईआईएमसी के परिसर तक भी पिछले साल दिसंबर में पहुंचा और ‘सस्ती शिक्षा’ को लेकर यहां भी छात्रों ने प्रदर्शन किया. कुछ छात्रों ने परिसर में फीस वृद्धि और मेस शुल्क के खिलाफ कई दिनों तक हड़ताल भी की.

बता दें कि पिछले साल दिसंबर महीने में आईआईएमसी के छात्रों ने शिक्षण शुल्क, हॉस्टल और मेस चार्ज में बढ़ोत्तरी के खिलाफ संस्थान परिसर में हड़ताल किया था. इससे पहले जेएनयू में छात्रावास शुल्क में बढ़ोतरी के विरोध में भारी प्रदर्शन हुआ था. आईआईएमसी सूचना और प्रसारण मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त संस्था है. आईआईएमसी की स्थापना साल 1965 में हुई थी और यह देश का सर्वश्रेष्ठ सरकारी मीडिया संस्थान माना जाता है. सरकारी संस्थान "नो प्रॉफिट नो लॉस" आधार पर चलने वाले हैं, जबकि आईआईएमसी में फीस साल दर साल बढ़ाई जा रही है. पिछले तीन सालों में ये फीस तकरीबन 50 फीसदी तक बढ़ा दी गई है.



ये भी पढ़ें- 

दिल्ली में दांव पर है MP के इन नेताओं की साख, चुनाव में जमकर किया था कैंपेन

गार्गी कॉलेज की छात्राओं ने सुनाई आपबीती- दीवार कूदकर आए पुरुष और की अश्‍लीलता 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 9:58 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर