लाइव टीवी

लॉकडाउन में इंदिरापुरम के 5 लड़कों ने उठाया गाजियाबाद के 45 जरूरतमंद घरों की जिम्मेदारी
Delhi-Ncr News in Hindi

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: March 27, 2020, 7:49 PM IST
लॉकडाउन में इंदिरापुरम के 5 लड़कों ने उठाया गाजियाबाद के 45 जरूरतमंद घरों की जिम्मेदारी
कुछ लोग और एनजीओ जरूरतमंद लोगों की मदद करके मिसाल कायम कर रहे हैं.

लॉकडाउन (Lockdown) के बीच बेबस, लाचार, असहाय, गरीब लोगों की सहायता के लिए कई हाथ उठने लगे हैं. खासतौर पर आर्थिक रूप से कमजोर और बेघरों को होने वाली परेशानी को देखते हुए कुछ लोग चावल, दाल, तेल, साबुन इत्यादि खाद्य और अन्य रोजमर्रा की सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 27, 2020, 7:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देशभर में कोरोना वायरस (Coronavirus) से हाहाकार मचा हुआ है. देश में लॉकडाउन (Lockdown) और कर्फ्यू की वजह से लोग घरों में बंद हैं. ऐसे में कुछ लोग, स्वंयसेवी संगठन जरूरतमंद लोगों की मदद करके मिसाल कायम कर रहे हैं. लॉकडाउन के बीच बेबस, लाचार, असहाय, गरीब लोगों की सहायता के लिए कई हाथ उठने लगे हैं. खासतौर पर आर्थिक रूप से कमजोर और बेघरों को होने वाली परेशानी को देखते हुए कुछ लोग चावल, दाल, तेल, साबुन इत्यादि खाद्य और अन्य रोजमर्रा की सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं. इसके लिए सरकारी लेवल पर तो प्रयास किए ही जा रहे हैं आम पब्लिक भी इन जरूरतमंदों के लिए सामने आ रहे हैं. गाजियाबाद के इंदिरापुरम में भी कुछ स्थानीय लड़के जरुरतमंदों के लिए दिन-रात एक कर रखा है. ये लोग जरूरतमंद लोगों को पहचान कर इनके घरों में खाने के साथ-साथ जरूरत के सामान पहुंचा रहे हैं.

जरुरतमंदों को पहुंचाई जा रही है मदद
गाजियाबाद के इंदिरापुरम के रहने वाले गौरव अपने टीम के साथ मिलकर कई लोगों की मदद कर रहे हैं. इंदिरापुरम गुरुद्वारा भी इस काम में गौरव को मदद कर रही है. गौरव खासतौर पर घरों में काम करने वाली महिलाओं और दिहाड़ी मजदूरों के घर में जा-जा कर राहत पैकेट बांट रहे हैं. अगर जरूरत होती है तो उनको रहने का भी प्रबंध कर रहे हैं. इस काम में गौरव के साथ चार और लोग हैं. गौरव न्यूज 18 हिंदी के साथ बातचीत में कहते हैं, 'हमने अभी तक 45 घरों, एक वृद्धा आश्रम और एक अनाथालय को चिन्हित किया है. जिस घर में तीन से पांच मेंबर होते हें उनको 5 किलो चावल, 5 किलो आटा, एक रिफाइन बोतल, एक डिटॉल साबुन, एक नमक का पैकेट, 200 ग्राम मसाला और ढाई किलो आलू देते हैं. जो भी लोग मदद करना चाहते हैं वो हम तक चावल, दाल, आलू, नमक, तेल, हाथ धोने का साबुन, डेटोल, सैनिटाइजर आदि सामान भेज सकते हैं.'

lockdown ground reporting, public help, ngo, News on lockdown, National News ghaziabad, Uttar Pradesh, दिल्ली एनसीआर, delhi ncr, Lock Down, गाजियाबाद, इंदिरापुरम, वैशाली, उत्तर प्रदेश, कोरोना वायरस, कोविड-19, लोगों की मदद कैसे करें,
गाजियाबाद के इंदिरापुरम के रहने वाले गौरव अपने टीम के साथ मिलकर कई लोगों की मदद कर रहे हैं.




सिर्फ आम लोग ही नहीं बल्कि संगठन स्तर पर भी लोग मदद के लिए आगे आए हैं. दलित एक्टिविस्ट ओपी धामा ने न्यूज 18 हिंदी के साथ बातचीत में कहा है कि ऑल इंडिया एससी, एसटी रेलवे एंप्लाई एसोसिएशन ने पीएम रिलीफ फंड में 70 करोड़ रुपये देने का ऐलान किया है. सभी एंप्लाई अगर एक दिन का सैलेरी देंगे तो इससे 70 करोड़ रुपये इकट्ठे हो जाएंगे. जिससे जो भी संभव हो रहा है उतना पैसा कोरोना से जंग के लिए दे रहा है, लेकिन मंदिर, मस्जिद चलाने वाली संस्थाएं अभी तक आगे नहीं आईं हैं, जबकि उनके पास अकूत धन संपदा है. आखिर ये पैसा संकट की घड़ी में नहीं तो फिर किस दिन काम आएगा.



रास्ते में फंसे लोगों को खिला रहे हैं खाना
दिल्ली एनसीआर में रह रहे लोगों ने भी अपना दिल जरूरतमंदों के लिए खोल कर रख दिया है. सोसायटियों के लोग ग्रुप बनाकर झुग्गियों और अस्थायी रूप से रहने वाले लोगों की मदद कर रहे हैं, उन्हें जरूरत का सामान दे रहे हैं. अक्सर पुलिस की गलत छवि को ही प्रचारित किया जाता है लेकिन दिल्ली और नोएडा के कई इलाकों में पुलिस ने झुग्गियों में रह रहे लोगों के बीच खाना बांटा. तकरीबन हर सोसाइटी में यह अपील की जा रही है कि आप लोग गरीबों की मदद के लिए आगे बढे.

lockdown ground reporting, public help, ngo, News on lockdown, National News ghaziabad, Uttar Pradesh, दिल्ली एनसीआर, delhi ncr, Lock Down, गाजियाबाद, इंदिरापुरम, वैशाली, उत्तर प्रदेश, कोरोना वायरस, कोविड-19, लोगों की मदद कैसे करें,
दिल्ली एनसीआर में रह रहे लोगों ने भी अपना दिल जरूरतमंदों के लिए खोल कर रख दिया है.


बता दें कि भारत में भी अबतक 732 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. यह वायरस अबतक पूरी दुनिया में 529,613 लोगों को संक्रमित कर चुका है. इसमें तकरीबन 23,976 लोगों की कोरोना के संक्रमण से मौत हो चुकी है. एक लाख 20 हजार से ज्यादा लोग संक्रमण से उबर चुके हैं. लेकिन इसके फैलने की रफ्तार कम नहीं हो रही है. इस बीच भारत में लॉकडाउन के बाद मजदूरों और नीचले तबकें के लोगों के लिए मुसीबत शुरु हो गई है. कई मजदूरों के दिल्ली से पैदल ही बिहार जाने की खबर आ रही है, सोशल मीडिया पर मजदूरों के पलायन के कई वीडियो सामने आ रहे हैं. इस बीच कई लोग मदद के लिए भी सामने आए हैं.

ये भी पढ़ें:

COVID-19 संकट पर बोले पूर्व केंद्रीय मंत्री- धार्मिक संस्थानों के पास अकूत धन, जनता के लिए करें दान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 27, 2020, 7:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading