मानसून के मद्देनजर MCD में लांच किया मच्छर रोधी कूलर, जानिए कूलर से कैसे रूकेगा मच्छरों का प्रजनन?

नॉर्थ एमसीडी (North MCD) की ओर से एक ऐसा कूलर तैयार किया गया है जो कि मच्छर रोधी कूलर है.

नॉर्थ एमसीडी (North MCD) की ओर से एक ऐसा कूलर तैयार किया गया है जो कि मच्छर रोधी कूलर है.

मच्छरों की उत्पत्ति को रोकने के लिए कूलर के वाटर टैंक पर एक जाली लगाई गई है ताकि व्यस्क मच्छर पानी से दूर रहे. उन्होंने कहा कि इसका उद्देश्य है कि साफ पानी में मच्छरों की उत्पत्ति को रोका जा सके.

  • Share this:

नई दिल्ली. मानसून (Monsoon) के मद्देनजर डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया की रोकथाम के लिए दिल्ली नगर निगम (MCD) की ओर से अभियान शुरू किया गया है. इस अभियान के चलते नॉर्थ एमसीडी (North MCD) की ओर से एक ऐसा कूलर तैयार किया गया है जो कि मच्छर रोधी कूलर है.

इस कूलर से मच्छरों के प्रजनन को रोकने में मदद मिल सकेगी. इस कूलर का उद्घाटन नॉर्थ दिल्ली के मेयर जयप्रकाश में पश्चिम विहार क्षेत्र में किया.

मेयर ने बताया है कि मच्छरों की उत्पत्ति को रोकने के लिए कूलर के वाटर टैंक पर एक जाली लगाई गई है ताकि व्यस्क मच्छर पानी से दूर रहे. उन्होंने कहा कि इसका उद्देश्य है कि साफ पानी में मच्छरों की उत्पत्ति को रोका जा सके.

उन्होंने कहा कि कूलर के वॉटर टैंक पर इस तरह की जाली लगाने से मच्छर पानी के संपर्क में नहीं आते हैं जिससे लार्वा की उत्पत्ति नहीं होती है और इसे लगाने के बाद कूलर के टैंक में मच्छर रोधी दवा डालने की जरूरत नहीं होती है. इसके
साथ ही इसे लगाकर चालान से भी बचा जा सकता है. उन्होंने कहा कि इस तरह के प्रयोग से हम अपने घरों के अंदर मौजूद कूलरों के अंदर मच्छरों की उत्पत्ति को रोक सकते हैं.

मेयर ने कहा कि नॉर्थ दिल्ली नगर निगम नागरिकों के स्वास्थ्य के प्रति संवेदनशील है. इसलिए हम अपनी तरफ से सभी प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस अभियान को सफल बनाने में नागरिकों का सहयोग अत्यंत आवश्यक है क्योंकि डेंगू, मलेरिया व चिकनगुनिया के लिए उत्तरदायी एडीज मच्छर अधिकतर घरों के अंदर व उनके आस पास उत्पन्न होता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज