Home /News /delhi-ncr /

जाट समुदाय पर अमर्यादित टिप्पणी मामला, AAP ने मांगा त्रिपुरा सीएम बिप्लब देव का इस्तीफा

जाट समुदाय पर अमर्यादित टिप्पणी मामला, AAP ने मांगा त्रिपुरा सीएम बिप्लब देव का इस्तीफा

कैलाश गहलोत ने कहा दुष्यंत चाौटाला को भी बिप्लब देब के इस्तीफे की मांग करनी चाहिए

कैलाश गहलोत ने कहा दुष्यंत चाौटाला को भी बिप्लब देब के इस्तीफे की मांग करनी चाहिए

बता दें कि त्रिपुरा सीएम ने कथित तौर पर जाट समुदाय के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी की थी जिसे लेकर आम आदमी पार्टी के मंत्री कैलाश गहलोत इस मुद्दे पर काफी आक्रोशित नजर आए. उन्होंने कहा कि जाट समुदाय इस तरह के अपमान को बर्दाश्त नहीं करेगा और इस तरह के अपमान के खिलाफ एकजुट होकर खड़ा होगा.

अधिक पढ़ें ...
नई दिल्ली. बिप्लब देब के बयान के बाद सियासी पारा गर्म हो गया हैआम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने सिख और जाट समुदाय (Sikh and Jat Community) के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने के मामले में भाजपा शासित त्रिपुरा के मुख्यमंत्री (Chief Minister of Tripura) बिप्लब कुमार देब (Biplab Kumar Deb) के इस्तीफे की मांग की है. आम आदमी पार्टी के विधायक और दिल्ली सरकार में कैबिनेट मंत्री कैलाश गहलोत (Kailash Gehlot) ने कहा कि भाजपा (BJP) को भारत के लोगों को बताना चाहिए कि उन्होंने बिप्लब देब के खिलाफ क्या कार्रवाई की है?

आम आदमी पार्टी ने जताया विरोध
बता दें कि त्रिपुरा सीएम ने कथित तौर पर जाट समुदाय के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी की थी जिसे लेकर आम आदमी पार्टी के मंत्री कैलाश गहलोत इस मुद्दे पर काफी आक्रोशित नजर आए. उन्होंने कहा कि जाट समुदाय इस तरह के अपमान को बर्दाश्त नहीं करेगा और इस तरह के अपमान के खिलाफ एकजुट होकर खड़ा होगा. साथ ही उन्होंने कहा कि त्रिपुरा सीएम की इस टिप्पणी पर बीजेपी अध्यक्ष को माफ़ी मांगनी चाहिए. आप विधायक जरनैल सिंह ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष को बिप्लब देब की इस टिप्पणी के लिए भारत के लोगों से माफी मांगनी चाहिए. उनका कहना है कि आम आदमी पार्टी बीजेपी की ऐसी मानसिकता का हर स्तर पर विरोध करेगी और ऐसी अपमान जनक टिप्पणी को स्वीकार नहीं करेगी.

दुष्यंत चाौटाला भी मांगे बिप्लब देब का इस्तीफ़ा!
दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा बीजेपी के मुख्यमंत्री के बोल से लोगों में नाराजगी है.
त्रिपुरा मुख्यमंत्री बिप्लब देब द्वारा बोले गए अपशब्दों से आज पूरे देश का जाट एवं सिख समुदाय दुखी है, लोगों में बेहद रोष एवं गुस्सा है. चुनाव के समय भाजपा गली-गली जाकर जाट और सिख समुदाय के लोगों से वोट देने की अपील करते हैं और चुनाव जीतने के बाद उसी समुदाय के प्रति इस प्रकार से अपशब्दों का इस्तेमाल किया जाता है. उन्होंने कहा कि एक राज्य का मुख्यमंत्री किसी एक समुदाय या पार्टी का नहीं, बल्कि उस राज्य में रहने वाले हर एक समुदाय, पार्टी एवं धर्म से जुड़े व्यक्ति का प्रतिनिधि होता है. बिप्लब देब जी के अमर्यादित शब्दों से इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि जिस व्यक्ति की मानसिकता इतनी संकीर्ण हो, वह जनता के साथ किस प्रकार से न्याय करेगा. उन्होंने कहा हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चाौटाला को भी बिप्लब देब के इस्तीफे की मांग करनी चाहिए.

कार्रवाई नहीं हुई यह भाजपा का आधिकारिक बयान माना जाएगा
कैलाश गहलोत ने कहा कि मैं पूछना चाहता हूं आजादी के समय जाट समुदाय के सर छोटू राम, जिन्होंने गरीबों व किसानों के हक की लड़ाई लड़ी, राजस्व मंत्री के पद पर भी रहे, जिनको सर की उपाधि दी गई थी, भाजपा के लिए उनका क्या मोल है? चौधरी देवीलाल जी जो भारत के उप प्रधानमंत्री के पद पर आसीन रहे, क्या भाजपा के लिए वह भी बिप्लब देव की अमर्यादित टिप्पणी के अंतर्गत आते हैं? चौधरी चरण सिंह, जो भारत के प्रधानमंत्री पद पर आसीन रहे, क्या भाजपा के लिए वह भी...? उन्होंने भाजपा नेतृत्व से सवाल करते हुए पूछा कि वो बिप्लब देब के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं करते हैं, उनका कहना है कि यदि कार्रवाई नहीं होती ही तो माना जाएगा कि यह भाजपा का आधिकारिक बयान है.

ये भी पढ़ें- 150 किमी. की रफ्तार से भगा रहा था Lamborghini, आ गया पुलिस की पकड़ में फिर...


 

कैलाश गहलोत ने भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से प्रश्न पूछते हुए कहा कि भाजपा बताएं कि बिप्लब देब जी के खिलाफ भाजपा ने क्या कार्यवाही की? उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति जो किसी एक समुदाय के प्रति इस प्रकार की हीन भावना रखता है, उसको मुख्यमंत्री पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है. उन्होंने कहा आम आदमी पार्टी त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब के इस्तीफे की मांग करती है. साथ ही साथ यदि भाजपा इस पर कोई एक्शन नहीं लेती है, तो यही समझा जाएगा कि बिप्लब देब जी का बयान भाजपा का आधिकारिक बयान है और जाट समुदाय इस अपमान को नहीं सहेगा.

बिप्लब देब का बेतुके बयान देने का इतिहास:आप
विधायक जरनैल सिंह ने कहा कि बिप्लब देब द्वारा बोले गए अपशब्दों से न केवल देश का जाट समुदाय, बल्कि पूरे सिख समुदाय में भी भारी रोष एवं गुस्सा है. दोनों ही समुदाय के लोगों का मानना है कि इससे हमारे समुदाय के लोगों के आत्म सम्मान को भारी ठेस पहुंची है. उन्होंने कहा कि आज किसी को भी यह बताने की जरूरत नहीं है कि देश की आजादी की लड़ाई में पंजाब का और सिखों का क्या योगदान रहा है. साथ ही उन्होंने कहा कि बिप्लब देव अक्सर ऐसे अनर्गल बयान देकर सुर्खियां बटोरने में माहिर हैं.undefined

Tags: Aam aadmi party, AAP, Biplab Deb, CM Biplab Kumar Deb, Jat agitation

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर