ट्रेनों के फुल होने पर लोगों को उनके घर तक पहुंचने के ल‍िए रेलवे ने बनाया क्‍या प्‍लान? जानें


महाराष्ट्र में कोविड के मामले लागातार तेज़ी से बढ़ रहे हैं और वहां फिर से लॉकडाउन की लगातार चर्चा चल रही है. ऐसे में सेंट्रल रेलवे ने योजना बनाई है

महाराष्ट्र में कोविड के मामले लागातार तेज़ी से बढ़ रहे हैं और वहां फिर से लॉकडाउन की लगातार चर्चा चल रही है. ऐसे में सेंट्रल रेलवे ने योजना बनाई है

Railway News: सेंट्रल रेलवे ने यात्रियों से अपील की है कि वो किसी तरह की अफवाह पर ध्यान न दें और रेलवे की ट्रेनें बंद नहीं होने जा रही हैं.

  • News18.com
  • Last Updated: April 13, 2021, 5:29 PM IST
  • Share this:
महाराष्ट्र में कोविड के मामले लागातार तेज़ी से बढ़ रहे हैं और वहां फिर से लॉकडाउन की लगातार चर्चा चल रही है. ऐसे में सेंट्रल रेलवे ने योजना बनाई है कि किसी ट्रेन में टिकट की मांग बढ़ने पर उस ट्रेन के पीछे डुप्लीकेट ट्रेन चलाई जाएगी. इसी के तहत सोमवार रात सेंट्रल रेलवे ने मुंबई से गोरखपुर के लिए एक डुप्लीकेट ट्रेन चलाई है. रेलवे ने मुसाफिरों से अपील की है कि मांग बढ़ने पर और भी स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी इसलिए मुसाफिर किसी भी हार में घबराए न और न ही किसी तरह की अफवाह पर ध्यान दें.

इतना ही नहीं सेंट्रल रेलवे ने यात्रियों से अपील की है कि वो किसी तरह की अफवाह पर ध्यान न दें और रेलवे की ट्रेनें बंद नहीं होने जा रही हैं. सेंट्रल रेलवे ने 7 अप्रैल से अब 25 स्पेशल ट्रेनें उत्तर भारतीय शहरों के लिए चलाई हैं, जबकि बाक़ी ट्रेनें पूरे अप्रैल में चलेंगी. वहीं सेंट्रल रेलवे से उत्तर भारत के लिए रोज़ाना क़रीब 20 रेगुलर ट्रेनें भी चलाई जा रही हैं.

Youtube Video


सेंट्रल रेलवे ने यात्र‍ियों के लिए 106 नई स्पेशल ट्रेनों का ऐलान किया है. ये ट्रेनें आम तौर पर मुंबई, पूना और सोलापुर से उत्तर और पूर्वी भारत के अलग अलग शहरों के लिए चलाई जा रही है. महाराष्ट्र में कोविड के बढ़ते मामलों के बीच इन ट्रेनों का ऐलान किया गया है. इसका मक़सद मुसाफिरों को घबराहट से बाहर निकालना है.
रेलवे ने अब तक जिनती भी ट्रेनें चलाई हैं वो आमतौर पर पूरी तरह भरकर चल रही हैं. कोविड प्रोटोकॉल के तहत फिलहाल केलव कन्फर्म टिकट वालों को ही यात्रा की अनुमति दी जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज