Assembly Banner 2021

मां पूर्णागिरी के दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं को टनकपुर से नई ट्रेन का तोहफा, आज रेल मंत्री दिखाएंगे हरी झंडी

रेल मंत्री आज मां पूर्णागिरि  के नाम से जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन का उद्घाटन वर्चुअल तरीके से दोपहर 1:25 पर करेंगे. (File Photo)

रेल मंत्री आज मां पूर्णागिरि के नाम से जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन का उद्घाटन वर्चुअल तरीके से दोपहर 1:25 पर करेंगे. (File Photo)

Indian Railways News: टनकपुर से दिल्ली जं. के बीच चलाई जाने वाली पूर्णागिरि जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन (Purnagiri Jan Shatabdi Express Train) 12 कोचों वाली होगी, जिसमें दो एसी और दो जनरेटर चेयरकार होंगे. 8 चेयर कार नॉन एसी वाले होंगे. टनकपुर से दिल्ली के बीच के सफर का समय 9:45 घंटे बताया गया है,

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 12:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय रेल (Indian Railways) आज उत्तराखंड के सीमांत इलाके में रहने वाले लोगों को एक बड़ी सौगात देने जा रहा है. केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) की ओर से आज टनकपुर रेलवे स्टेशन (Tanakpur Railway Station) से दिल्ली के लिए मां पूर्णागिरि (Purnagiri) के नाम से जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन (Jan Shatabdi Train) का उद्घाटन किया जाएगा. रेल मंत्री इस ट्रेन का उद्घाटन वर्चुअल तरीके से दोपहर 1:25 पर करेंगे.

ट्रेन के सभी कोच आरक्षित श्रेणी के होंगे. नियमित रूप से चलने वाली सभी ट्रेनों से यात्रा करने वाले यात्रियों को कोविड-19 से बचाव एवं इसकी रोकथाम को लेकर जारी दिशा निर्देशों का पालन करना भी अनिवार्य होगा.

रेलवे अधिकारियों के मुताबिक आज ट्रेन की सौगात उत्तराखंड के लोगों को मिलने जा रही है. उद्घाटन समारोह में राज्यसभा सांसद और भाजपा के वरिष्ठ नेता अनिल बलूनी, सांसद अजय टम्टा और नैनीताल से सांसद अजय भट्ट भी प्रमुख रूप से मौजूद रहेंगे.



रेल अधिकारियों के मुताबिक, टनकपुर से दिल्ली जं. के बीच चलाई जाने वाली पूर्णागिरि जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन (Purnagiri Jan Shatabdi Express Train) 12 कोचों वाली होगी, जिसमें दो एसी और दो जनरेटर चेयरकार होंगे. 8 चेयर कार नॉन एसी वाले होंगे. टनकपुर से दिल्ली के बीच के सफर का समय 9:45 घंटे बताया गया है, जबकि लोगों को उम्मीद थी कि जनशताब्दी के चलने के बाद टनकपुर से दिल्ली के बीच का सफर काफी कम हो जाएगा.
उम्मीद लगाई जा रही थी कि सफर में मात्र 7 घंटे ही लगेंगे. जन शताब्दी के चलने के बाद टनकपुर का सीमांत क्षेत्र अब देश की राजधानी दिल्ली से सीधा रेल सेवा के जरिए जुड़ जाएगा. लोगों को आने जाने में बड़ी सुविधा मिल सकेगी. बताया जाता है कि एक लंबे समय से सीमांत के लोग इस ट्रेन संचालन का इंतजार कर रहे थे. अब आज उनकी यह उम्मीद पूरी होने जा रही है.

इस ट्रेन के संचालन के बाद मां पूर्णागिरि धाम के लिये श्रद्धालुओं को आने जाने में बड़ी सुविधा मिल सकेगी. हाल ही में रेल मंत्रालय की ओर से त्रिवेणी के लिए भी ट्रेन का संचालन किया गया था. रेल मंत्री की ओर से आज इस ट्रेन का उद्घाटन वर्चुअल तरीके से करने के बाद शनिवार से सुबह 11:25 को गाड़ी संख्या 05325 टनकपुर से दिल्ली के लिए रवाना होगी. इसके बाद वापसी में दिल्ली से अगले दिन सुबह 6:10 पर टनकपुर के लिए ट्रेन संख्या 05326 नियमित रूप से संचालित की जाएगी.

पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज के मुताबिक टनकपुर और दिल्ली जंक्शन से 27 फरवरी से दोनों तरफ से ट्रेन संचालन प्रतिदिन शुरू होगा.  सीपीआरओ के मुताबिक उद्घाटन विशेष गाड़ी का प्रस्थान समय संभावित है जो गाड़ी के उद्घाटन समय पर निर्भर करेगा. ट्रेन संख्या 05323 ट्रेन का उद्घाटन रेल मंत्री पीयूष गोयल आज 26 फरवरी को दोपहर 1:25 पर वर्चुअल माध्यम से करेंगे.

टनकपुर-दिल्ली जंक्शन के बीच यह स्टेशन होंगे प्रमुख
इसके बाद यह ट्रेन अपने शेड्यूल के मुताबिक बनबसा, खटीमा, पीलीभीत जंक्शन, इज्जत नगर, बरेली सिटी, बरेली जंक्शन, बशारत गंज, आंवला, करेंगी, डब तारा, आसफपुर, चंदौसी जंक्शन, राजा का सहसपुर, मुरादाबाद, अमरोहा, गजरौला जंक्शन, गढ़मुक्तेश्वर, सिम्‍भौली, हापुड़, पिलखुआ, गाजियाबाद, साहिबाबाद, दिल्ली शाहदरा होते हुए दिल्ली जंक्शन पहुंचेगी. दिल्ली जंक्शन पहुंचने का समय रात्रि 11:35  निर्धारित किया गया है. वापसी में भी यह ट्रेन इनी रूटों से होते हुए दिल्ली जंक्शन से टनकपुर पहुंचेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज