• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • देश की पहली प्राइवेट ट्रेन का नया टाइम-टेबल जारी, अब गाजियाबाद में भी रुकेगी

देश की पहली प्राइवेट ट्रेन का नया टाइम-टेबल जारी, अब गाजियाबाद में भी रुकेगी

नई दिल्ली से लखनऊ तक जाने वाली देश की पहली प्राइवेट तेजस एक्सप्रेस अब गाजियाबाद में भी रुकेगी.

नई दिल्ली से लखनऊ तक जाने वाली देश की पहली प्राइवेट तेजस एक्सप्रेस अब गाजियाबाद में भी रुकेगी.

नई दिल्ली (NEW DELHI RAILWAY STATION) से लखनऊ (LUCKNOW) तक जाने वाली देश की पहली प्राइवेट तेजस एक्सप्रेस (TEJAS TRAIN) अब गाजियाबाद (GHAZIABAD) में भी रुकेगी. तेजस एक्सप्रेस गाजियाबाद रेलवे स्टेशन (GHAZIABAD RAILWAY STATION) पर दो मिनट के लिए रुकेगी.

  • Share this:
    नई दिल्ली (NEW DELHI RAILWAY STATION) से लखनऊ (LUCKNOW) तक जाने वाली देश की पहली प्राइवेट तेजस एक्सप्रेस (TEJAS TRAIN) अब गाजियाबाद (GHAZIABAD) में भी रुकेगी. तेजस एक्सप्रेस गाजियाबाद रेलवे स्टेशन (GHAZIABAD RAILWAY STATION) पर दो मिनट के लिए रुकेगी. इंडियन रेलवे ने हाल ही में एक सर्वे किया था, जिसके बाद इस ट्रेन को गाजियाबाद में भी स्टॉपेज दिया गया है. तेजस ट्रेन नई दिल्ली से चल कर लखनऊ तक जाएगी. पहले इस ट्रेन का स्टॉपेज सिर्फ कानपुर स्टेशन ही था, लेकिन रेलवे बोर्ड के नए सर्कुलर के बाद यह ट्रेन अब गाजियाबाद में भी दो मिनट के लिए रुकेगी.

    तेजस ट्रेन का टाइम-टेबल बदला

    इंडियन रेलवे ने हाल ही में एक सर्वे में पाया था कि तेजस ट्रेन से यात्रा करने वाले अधिकांश पैसेंजर्स गाजियाबद में ट्रेन का स्टोपेज देने की मांग कर रहे थे. इस ट्रेन में सवारी करने वाले ज्यादातर यात्री गाजियाबाद की तरफ से ही आने वाले हैं. ऐसे में भारतीय रेलवे ने कानपुर के बाद गाजियाबाद में भी इसका स्टोपेज बनाया है. तेजस ट्रेन का गाजियाबाद में रुकने के बाद अब इस तरफ रहने वाले लोगों को दिल्ली नहीं जाना पड़ेगा. बीते 13 अगस्त को ही रेलवे बोर्ड ने इसके लिए सर्कुलर जारी कर दिया है.

    TEJAS TRAIN STOPAGE IN GZB
    बीते 13 अगस्त को ही रेलवे बोर्ड ने इसके लिए सर्कुलर जारी कर दिया है


    इंडियन रेलवे ने तेजस ट्रेन का नया शेड्यूल भी जारी कर दिया है. तेजस ट्रेन की पहले की टाइमिंग में भी अब फेरबदल कर दिया गया है. अब यह ट्रेन लखनऊ से 40 मिनट पहले सुबह 6.10 बजे चलेगी. साल 2016 में जब तेजस ट्रेन का टाइम-टेबल जारी किया गया था तो लखनऊ जंक्शन से इसके रवाना होने का समय सुबह 6.50 बजे था. नए शेड्यूल के मुताबिक अब यह ट्रेन 40 मिनट पहले सुबह 6.10 बजे रवाना होगी.

    गाजियाबाद में भी रुकेगी

    यह ट्रेन अब नई दिल्ली रेलवे स्टेशन 12.25 मिनट पर पहुंचेगी. लखनऊ से चलकर गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पर सुबह 11.43 बजे पहुंचेगी और 11.45 दिल्ली के रवाना होगी. पहले के टाइमिंग के मुताबिक दिल्ली दोपहर 1.20 बजे पहुंचने का समय था. इसी तरह नए टाइम-टेबल के मुताबिक अब तेजस नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से शाम 4.30 चल कर रात 10.45 बजे लखनऊ पहुंचेगी. शाम 5.10 बजे गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी और 5.12 बजे लखनऊ के लिए रवाना होगी.

    TEJAS TRAIN
    भारतीय रेलवे ने निजी हाथों में सौंपने की कवायद के तहत ही तेजस ट्रेन चलाने का फैसला किया था


    बता दें कि पिछले कुछ सालों से रेलवे में निजीकरण की बात चल रही थी. भारतीय रेलवे ने निजी हाथों में सौंपने की कवायद के तहत ही तेजस ट्रेन चलाने का फैसला किया था. फिलहाल भारतीय रेलवे ने दो ट्रेनों का संचालन रेल टूरिज्म एंड कैटरिंग कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) को सौंपने का फैसला लिया है. इंडियन रेलवे ने तय किया है कि दिल्ली से लखनऊ और अहमदाबाद से मुंबई सेंट्रल रूट पर चलने वाली तेजस एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन आईआरसीटीसी करेगा.

    केवल कन्फर्म टिकट ही जारी होंगे

    इसके साथ ही तेजस एक्सप्रेस में अब केवल कन्फर्म टिकट ही जारी होंगे. सीटें खाली होने पर ट्रेन छूटने के दो मिनट पहले तक आईआरसीटीसी के करंट काउंटर से टिकट जारी होगा. हालांकि, चलती तेजस ट्रेन में टीटीई को टिकट बनाने का अधिकार नहीं होगा. लखनऊ-दिल्ली रूट पर तेजस देश की ऐसी पहली ट्रेन होगी, जिसमें परिचालन, सिग्नल और पार्सल बुकिंग का अधिकार रेलवे के पास होगा. बाकी सारा काम आईआरसीटीसी के अधीन होगा.

    TEJAS TRAIN CONFIRM SEAT
    तेजस एक्सप्रेस में अब केवल कन्फर्म टिकट ही जारी होंगे


    इंडियन रेलवे के मुताबिक इस ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को खानपान के नाम पर वंदेमातरम, शताब्दी एक्सप्रेस, राजधानी एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों से अधिक चार्ज चुकाना पड़ेगा, लेकिन इसमें दूसरी ट्रेनों की तुलना में अधिक प्रकार के व्यंजन परोसे जाएंगे. खान-पान का चार्ज भी टिकट में ही जुड़ा होगा. इस ट्रेन में अलग से खानपान के लिए यात्रियों को पैसा देने की जरूरत नहीं होगी. भारतीय रेलवे ने आईआरसीटीसी को ये ट्रेनें पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर तीन साल के लिए लीज पर दी है.

    ये भी पढ़ें: 

    अरुण जेटली को अंतिम विदाई न दे पाने का दुख पीएम मोदी को ताउम्र रहेगा
    मन में यह टीस लिए ही विदा हो गए अरुण जेटली!
    जब अरुण जेटली ने की थी मनमोहन सिंह सरकार की मदद

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज