Indian Railways: चेन्नई के लिए 10 मई को चलेगी सुपरफास्ट ट्रेन, तुरंत करायें बुकिंग, कंफर्म मिलेगी टिकट

भारतीय रेलवे (File Photo)

Indian Railway News: यात्रियों की सुविधा के मद्देनजर श्री गंगानगर-चेन्नई सेंट्रल (एक तरफा) के बीच एक सुपर फास्ट समर स्पेशल (Superfast Summer Special) ट्रेन चलाने का फैसला किया है. यह ट्रेन पूरी तरीके से आरक्षित श्रेणी की होगी.

  • Share this:


    नई दिल्ली. कोरोना (Corona) के बढ़ते प्रकोप के चलते जहां रेलवे यात्रियों की पर्याप्त संख्या नहीं मिलने पर ट्रेनों को लगातार कैंसल करने का निर्णय ले रही है. वहीं, यात्रियों की जरूरत के मुताबिक स्पेशल ट्रेनों का भी समय-समय पर संचालित करने का फैसला भी कर रही है.

    रेलवे की ओर से यात्रियों की सुविधा के मद्देनजर श्री गंगानगर-चेन्नई सेंट्रल (एक तरफा) के बीच एक सुपर फास्ट समर स्पेशल (Superfast Summer Special) ट्रेन चलाने का फैसला किया है. यह ट्रेन पूरी तरीके से आरक्षित श्रेणी की होगी.

    उत्तर पश्चिम रेलवे के उप-महाप्रबंधक (सामान्य) व मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट शशि किरण के अनुसार गाडी संख्या 04713, श्रीगंगानगर-चैन्नई सेट्रल (एक तरफा) सुपरफास्ट समर स्पेशल रेलसेवा  10 मई, सोमवार को श्रीगंगानगर से 10 बजे रवाना होकर 12‌ मई को 10 बजे चैन्नई सेट्रल पहुंचेगी.

    यह रेलसेवा मार्ग में हनुमानगढ, सूरतगढ, बीकानेर, नोखा, नागौर, डेगाना, मकराना, फुलेरा, जयपुर, दुर्गापुरा, सवाईमाधोपुर, कोटा, रामगंज मण्डी, भवानी मंडी, शामगढ, नागदा जं., उज्जैन, बैरछा, सुजालपुर, सेहोर, भोपाल, हबीबगंज, इटारसी, बेतुल, पांदुरना, नागपुर जं., सेवाग्राम जं., चंद्रपुर महाराष्ट्र, बल्हारशाह जं., सिरपुर कागजनगर, मंचियाल, वारंगल, विजयवाडा जं., नेल्लोर व गुडूर जं. स्टेशनों पर ठहराव करेगी.

    यात्री नहीं मिलने पर कल 82 ट्रेनों को रद्द करने की हुई थी घोषणा


    बताते चलें कि उत्तर पश्चिम रेलवे (North Western Railway) ने कल 18 ट्रेनों को कैंसल करने का फैसला किया था. वहीं, उत्तर रेलवे (Northern Railway) ने 28 जोड़ी ट्रेनों को यात्री नहीं मिलने की वजह से रद्द करने का फैसला किया था. इन ट्रेनों में दूरंतो, शताब्दी, जनशताब्दी, राजधानी और वंदे भारत आदि ट्रेनें भी प्रमुख रूप से शामिल हैं. पश्चिम रेलवे (Western Railway) ने भी 36 ट्रेनों को पर्याप्त यात्री नहीं मिलने की वजह से कैंसल किया था.