अपना शहर चुनें

States

COVID-19: आईटीबीपी ने CISF की दिल्ली मेट्रो यूनिट को दिए 2 हजार पीपीई किट और मास्क

लॉकडाउन 4.0 में दिल्‍ली मेट्रो बंद रहेगी (सांकेतिक चित्र)
लॉकडाउन 4.0 में दिल्‍ली मेट्रो बंद रहेगी (सांकेतिक चित्र)

आईटीबीपी ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए सीआईएसएफ की दिल्ली मेट्रो यूनिट को 2 हजार पीपीई किट और मास्क बुधवार को सौंपे.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (Indo Tibetan Border Police) ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (Central Industrial Security Force) की दिल्ली मेट्रो यूनिट को 2,000 पर्सनल प्रोटेक्शन इक्यूपमेंट (PPE) किट और मास्क बुधवार को सौंपे.

अधिकारियों ने बताया कि आईटीबीपी ने हरियाणा के सोनीपत जिले के सबोली में अपने शिविर में एक विशेष केंद्र स्थापित किया है जहां पीपीई और मास्क तैयार किए जाते हैं. इन मास्क और पीपीई का इस्तेमाल महामारी से निपटने के लिए तैनात उसके जवान तथा संगठन करते हैं. ये सुरक्षा उपकरण सबसे आगे रहने वाले पुलिस, अर्धसैनिक बलों और स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के लिए हैं. मगर ये कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज का इलाज करने वाले डॉक्टरों के लिए नहीं हैं.
तीन परत वाले हैं मास्‍क
आईटीबीपी के प्रवक्ता ने बताया, "1,000 से अधिक पीपीई और तीन परत वाले इतने ही मास्क आज सीआईएसएफ की मेट्रो रेल इकाई को सौंपे गए हैं."
करीब 90,000 कर्मियों वाली आईटीबीपी का मुख्य काम चीन के साथ लगती 3,488 किलोमीटर लंबी वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) की रक्षा करना है. वहीं, सीआईएसएफ की दिल्ली मेट्रो इकाई पूरे देश में एक ही प्रतिष्ठान में अर्धसैनिक बल की सबसे बड़ी तैनाती है.



एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इन पीपीई किट और मास्क का उपयोग मेट्रो यात्रियों और उनके सामान की जांच करने वाले कर्मी करेंगे. इसके अलावा स्टेशन पर अन्य स्थानों पर तैनात सशस्त्र सुरक्षा कर्मी भी इनका इस्तेमाल करेंगे.

ये भी पढ़ें-

आजादपुर मंडी के सब्जी विक्रेता की Corona संक्रमण से मौत, व्यापरियों में खौफ

दिल्‍ली: नोएडा और गाजियाबाद बॉर्डर सील, वाहनों की लगी लंबी कतार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज