COVID 19: दिल्ली पुलिस की खास पहल, Corona से बचने के लिए इस मशीन का कर रहे यूज
Delhi-Ncr News in Hindi

COVID 19: दिल्ली पुलिस की खास पहल, Corona से बचने के लिए इस मशीन का कर रहे यूज
सेंट्रल दिल्ली जिला इलाके में महीने के आखिरी दिनों में 'पुलिस ऑफ द मंथ' (Police Of The Month) का चुनाव किया जाएगा. इसमें चयनित जवान का पोस्टर शानदार तरीके से प्रदर्शित किया जाएगा,

'थर्मल कोरोना कोम्बेट हैडगियर' (TCCH) मशीन से दिल्ली पुलिस की टीम एक ऐसे मशीन का टेस्ट भी कर रही है जो आने वाले वक्त में दिल्ली पुलिस के लिए वरदान साबित हो सकता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. ''आप कार में ही बैठे रहें. हमलोग वहीं से आपके तमाम दस्तावेजों को और आपके बॉडी का तापमान माप लेंगे. कृप्या आपलोग परेशान नहीं हों और दिल्ली पुलिस की मदद करें.'' ये शब्द हैं राजौरी गार्डन थाना के एसएचओ अनिल शर्मा का जो अपने इलाके के एसीपी राम सिंह के साथ सड़क पर गुजरने वाले लोगों से बातचीत कर रहे थे. इस दौरान लोगों को भी थोड़ा आश्चर्य हो रहा था कि ये कैसे हो सकता है लेकिन उन लोगों के पास कोई कोई अन्य विकल्प भी नहीं था. थोड़ी ही देर में उन लोगों ने करीब 10 से 15 मीटर की दूरी से अपनी कार के अंदर से ही लॉकडाउन में यात्रा करने का दस्तावेज दिखाया जिसे एक मशीन से काफी दूरी से ही देखकर पुख्ता कर लिया गया. इसके साथ ही कार में सवार दोनों लोगों का बॉडी का तापमान भी माप लिया गया. तापमान मापने से ये शुरूआती दौर में प्रमाणित हो गया कि ये लोग बीमार नहीं है. उसके बाद वो लोग आगे बढ़ गए. उसके बाद अन्य लोगों की बारी थी.

राजौरी गार्डन थाना इलाके में थर्मल कोरोना कोम्बेट हैडगियर मशीन का प्रयोग
दिल्ली पुलिस या पारा मिलिट्री फोर्स के जवान पिछले कुछ दिनों से लगातार काफी संख्या में कोरोना वायरस से संक्रमित होते जा रहे हैं. लेकिन 'थर्मल कोरोना कोम्बेट हैडगियर' (TCCH) मशीन से दिल्ली पुलिस की टीम एक ऐसे मशीन का टेस्ट भी कर रही है जो आने वाले वक्त में दिल्ली पुलिस के लिए वरदान साबित हो सकता है. क्योंकि इस मशीन से दिल्ली पुलिस वालों का काफी काम आसान भी हो जाएगा और उन लोगों का संक्रमण होने की संभावना भी कम हो सकती है. वेस्ट दिल्ली के डीसीपी दीपक पुरोहित ने इस टेस्ट मशीन को अनुमति प्रदान की है. वो खुद इस मशीन से जुड़े तमाम रिपोर्ट पर ध्यान दे रहे हैं. इस मशीन की चर्चा को अब पूरे दिल्ली पुलिस में हो रही है क्योंकि इस मशीन को मात्र राजौरी गार्डन इलाके में प्रयोग मात्र के लिए इंस्पेक्टर अनिल शर्मा ने अपने वक्तिगत अनुरोध पर लाया है.

कौन हैं इंस्पेक्टर अनिल शर्मा ?
दिल्ली में हुए निर्भया कांड के मुख्य जांचकर्ता इंस्पेक्टर अनिल शर्मा ही थे. दिल्ली पुलिस में अनिल शर्मा को उनके अधिकारी और उसके सहयोगी बेहद आधुनिक तकनीक का प्रयोग करने के लिए जानते हैं. निर्भया केस मामले में इन्होने आरोपियों के दांत से जुड़े फॉरेंसिक टेस्ट से लेकर कई तरह के आधुनिक टेस्ट को करवाया था और इस मामले को अंजाम तक पहुंचाने में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.



अनिल शर्मा ने हाल में ही दिल्ली में स्थित इंडियन रोबो स्टोर ग्रुप के दो युवा लोगों से मुलाकात की थी . उससे कई आधुनिक यंत्रों के मसले पर चर्चा की और कहा कि इस कोरोना से बचने के मसले पर कोई ऐसा यंत्र बनाए जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों को बचाया जा सके. उसके बाद उन दोनों युवाओं ने थर्मल कोरोना कोम्बेट हैडगियर मशीन को बनाया. हालांकि इस तरह के मशीन का प्रयोग चीन में इस वक्त किया जा रहा है, लेकिन ये टीसीसीएच मशीन पूर्ण तौर पर देशी तरीके से बनाया गया है.

ये भी पढ़ें- Lockdown में बेच रहे थे चोरी का सामान, दिल्ली पुलिस ने पकड़ा

IGI Airport पर मुसाफिरों को मिलेगी सिर्फ ‘पेड Quarantine फैसिलिटी’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading