लाइव टीवी

JDU महासचिव पवन वर्मा बोले- नाराजगी नहीं, बस चाहता हूं पार्टी की विचारधारा स्पष्ट हो
Patna News in Hindi

News18Hindi
Updated: January 22, 2020, 9:02 PM IST
JDU महासचिव पवन वर्मा बोले- नाराजगी नहीं, बस चाहता हूं पार्टी की विचारधारा स्पष्ट हो
जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव पवन वर्मा को नीतीश कुमार ने नसीहत दी है.

पवन वर्मा (Pavan Varma) ने कहा कि 2013 से 2017 तक जेडीयू ने नरेंद्र मोदी और बीजेपी का पुरजोर विरोध किया लेकिन हाल में जो चीजें हुई हैं, उसके बाद जेडीयू की विचारधारा का स्पष्टीकरण होना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2020, 9:02 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Elections 2020) के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ गठबंधन को लेकर जनता दल-यूनाइटेड (JDU) में घमासान मचा हुआ है. पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव पवन वर्मा (Pavan Varma) ने इस गठबंधन को लेकर सवाल खड़ा करते हुए एक बार फिर पार्टी प्रमुख और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से सवाल किया है कि वह विचारधारा को लेकर पार्टी का रुख स्पष्ट करें.

'पार्टी की विचारधारा स्पष्ट हो'

न्यूज18 से बात करते हुए पवन वर्मा ने कहा, "जेडीयू से कोई नाराजगी नहीं है बल्कि आग्रह किया है कि पार्टी की विचारधारा स्पष्ट हो. मैं जानना चाहता हूं कि बीजेपी की विचारधारा से पार्टी किस हद तक तालमेल रखती है?"

दिल्ली में BJP के साथ चुनाव लड़ रही है JDU

उन्होंने कहा कि 2013 से 2017 तक जेडीयू ने नरेंद्र मोदी और बीजेपी का पुरजोर विरोध किया लेकिन हाल में जो चीजें हुई हैं, उसके बाद जेडीयू की विचारधारा का स्पष्टीकरण होना चाहिए. लोगों को अगर लगता है कि नीतीश कुमार का डबल स्टैंडर्ड है, तो ये जेडीयू के लिए गलत है. क्या सिर्फ हम अवसर आने पर फैसला करने लगे हैं या फिर जेडीयू की कोई विचारधारा है? अकाली दल ने बीजेपी के साथ दिल्ली में गठबंधन नहीं किया और जेडीयू साथ चुनाव लड़ रही है.

पत्र का जवाब नहीं मिलने पर उठा सकते हैं कोई कदम

एक सवाल के जवाब में पवन वर्मा ने कहा, "नीतीश कुमार से मैंने पहले से ही वक्त मांगा है. पहले मैं नीतीश कुमार से नागरिकता संशोधन कानून पर बात कर चुका था, जब नीतीश कुमार ने स्वीकार नहीं किया तब मैंने सार्वजनिक पत्र लिखा और अपनी राय से आगाह किया. हमने पत्र लिखा है. जवाब का इंतजार करूंगा और अगर बातचीत का जरिया होगा तो बातचीत होगी. अगर ऐसा नहीं हुआ तो अगला कदम क्या उठाऊंगा, ये बाद में बताऊंगा."उल्लेखनीय है कि पवन वर्मा ने मंगलवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखा था. पत्र में पवन वर्मा ने सवाल उठाया कि जेडीयू ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी के साथ गठबंधन कैसे कर लिया? वर्मा ने अपने पत्र के जरिए नीतीश कुमार से कहा है कि वह इस मामले पर अपनी बात स्पष्ट करें. वर्मा ने कहा है कि ऐसे में जबकि सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर बीजेपी का देशव्यापी विरोध हुआ है, जेडीयू ने बिहार के बाहर ऐसी पार्टी के साथ कैसे गठबंधन कर लिया.

ये भी पढ़ें-

विजय गोयल ने शाहीन बाग में चल रहे एंटी CAA प्रदर्शन पर उठाए सवाल, कही ये बात

दिल्ली चुनाव : क्या केजरीवाल को कड़ी चुनौती दे पाएंगे बीजेपी के सुनील यादव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 22, 2020, 7:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर