Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली, IGI एयरपोर्ट..., और अब सीधे आर्थिक राजधानी मुंबई से जुड़ जाएगा जेवर, पढ़िए पूरा प्लान

दिल्ली, IGI एयरपोर्ट..., और अब सीधे आर्थिक राजधानी मुंबई से जुड़ जाएगा जेवर, पढ़िए पूरा प्लान

Jewar to Mumbai Road Connectivity Plan: जेवर को मुंबई से जोड़ने के लिए प्लान बनकर तैयार है.

Jewar to Mumbai Road Connectivity Plan: जेवर को मुंबई से जोड़ने के लिए प्लान बनकर तैयार है.

Jewar to Mumbai Road Connectivity Plan: जल्द ही ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे भी जेवर के पास यमुना एक्सप्रेसवे से जुड़ जाएगा. इस तरह से जेवर एयरपोर्ट (Noida International Airport) को एक और कनेक्टिविटी मिल जाएगी. जैसे जयपुर या हरियाणा और पंजाब की साइड से आने वाले वाहन ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे से उतरकर यमुना एक्सप्रेसवे पर उतर जाएंगे. उसके बाद आसानी से जेवर एयरपोर्ट पहुंच जाएंगे. ये वाहन आगे आगरा से सीधे लखनऊ, कानपुर की ओर निकल जाएंगे. ग्वालियर, भोपाल-इंदौर होते हुए महाराष्ट्र भी जा सकता हैं और कानपुर के रास्ते कोलकाता चले जाएंगे.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. यूपी के खास शहरों में शामिल हो चुके जेवर से एक और बड़ी कामयाबी जुड़ने वाली है. कुछ साल पहले तक जिस जेवर की कनेक्टिविटी दिल्ली से आसान नहीं थी, वो शहर जेवर अब सीधे मुम्बई (Jewar to Mumbai Connectivity) से जुड़ने जा रहा है. इसके लिए हरियाणा और यूपी की सरकार ने मिलकर कदम उठाया है. करोड़ों रुपये की लागत से ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे बनाने की तैयारी की जा रही है. एक्सप्रेसवे बनाने की जिम्मेदारी एनएचएआई (NHAI) को दी गई है. एक्सप्रेसवे के एक हिस्से में एलिवेटेड रोड भी बनाया जाएगा.

यूपी सरकार की ओर से एक लेटर यमुना अथॉरिटी को भेजा गया है. लैटर में ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे तैयार कराने के लिए अथॉरिटी को 486 करोड़ रुपये भी भेजने की बात कही गई है. इंटरचेंज बनाने के लिए जमीन खरीदने और निर्माण के लिए 76 करोड़ रुपये और इंटरचेंज से जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की बाउंड्री तक बनने वाले एलिवेटेड लिंक के लिए जमीन खरीदने और निर्माण पर खर्च होने वाले 75 करोड़ रुपये भी यूपी सरकार खर्च करेगी.

Supertech Twin Tower पर हेलीकॉप्टर से गिराया जाएगा पानी!, जानिए वजह

बल्लभगढ़ से जेवर 30 किमी का एक्सप्रेसवे

जानकारों की मानें तो हरियाणा के बल्लभगढ़ से जेवर एयरपोर्ट की दूरी 30 किमी की है. इसमेंं से करीब 8 किमी का हिस्सा यूपी के हिस्से में आ रहा है. लेकिन ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे की लागत का आधा-आधा खर्च दोनों राज्यों की सरकारें उठा रही हैं. इसमे से इंटरचेंज में होने वाले खर्च को आधा यूपी सरकार तो आधा एनएचएआई देगी, लेकिन एक्सप्रेसवे पर मालिकाना हक एनएचएआई का ही रहेगा.

आपस में जुड़ जाएंगे आईजीआई और जेवर एयरपोर्ट

दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेसवे दिल्ली के कालिंदी कुंज से होकर भी गुजरेगा. कालिंदी कुंज वो सड़क है, जहां से सारिता विहार, नेहरू प्लेस और द्वारका होते हुए रास्ता आईजीआई एयरपोर्ट के लिए जाता है. इस तरह ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे बन जाने के बाद जेवर एयरपोर्ट दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेसवे की मदद से आईजीआई एयरपोर्ट से भी जुड़ जाएगा.

Tags: Delhi-Mumbai Expressway, IGI airport, Jewar airport

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर