लाइव टीवी

JNU हिंसा: VC जगदीश कुमार बोले- हॉस्टल में अवैध रूप से रह रहे बाहरी छात्रों ने बनाया हिंसा का माहौल
Delhi-Ncr News in Hindi

एएनआई
Updated: January 11, 2020, 1:30 PM IST
JNU हिंसा: VC जगदीश कुमार बोले- हॉस्टल में अवैध रूप से रह रहे बाहरी छात्रों ने बनाया हिंसा का माहौल
जेएनयू वीसी जगदीश कुमार (ANI)

वीसी जगदीश कुमार (VC Jagadesh Kumar) ने शनिवार को JNU में पढ़ने वाले छात्रों के साथ मीटिंग करते हुए कहा कि छात्रों की सुरक्षा (JNU Violence) को ध्यान में रखते हुए कड़े इंतजाम किए हैं जिससे निर्दोष छात्रों को किसी भी तरह का नुकसान ना हो. उन्होंने कहा कि हॉस्टल परिसर में हर जगह CCTV लगाए जाएंगे

  • Share this:
नई दिल्ली: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के कुलपति जगदीश कुमार (VC Jagadesh Kumar) ने शनिवार को यहां पढ़ने वाले छात्रों के साथ बैठक की है. इस दौरान उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी कैंपस के हॉस्टल में कुछ छात्र अवैध रूप से रह रहे हैं. ये वही लोग हैं जो JNU (JNU Violence) में आतंक का माहौल बना रहे हैं, क्योंकि उन्हें विश्वविद्यालय से कोई लेना देना नहीं है. उन्होंने कहा कि पिछले दिनों JNU में हुई हिंसा के बाद कई छात्रों ने हॉस्टल छोड़ दिये हैं. हमने छात्रों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं ताकि निर्दोष छात्रों को किसी भी तरह का नुकसान ना हो. उन्होंने यह भी कहा कि हॉस्टल परिसर में हर जगह CCTV लगाए जाएंगे. वीसी जगदीश कुमार ने शनिवार को JNU में पढ़ने वाले छात्रों के साथ मीटिंग के दौरान ये बातें कही.




हिंसा करने वाले सभी दोषियों पर कार्रवाई
इससे पहले शुक्रवार को वीसी जगदीश कुमार ने दिल्ली पुलिस की प्रेस-कॉन्फ्रेंस के बाद कहा था कि हम चाहते हैं कि हिंसा करने वाले सभी दोषियों पर कार्रवाई हो. उन्होंने कहा था कि आशा है दोषियों की पहचान होगी और उन्हें सजा भी मिलेगी. दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जेएनयू हिंसा में शामिल छात्रों की फोटो जारी की थी. जिसमें चार लेफ्ट और दो एबीवीपी से जुड़े हुए हैं. आरोपियों में जेएनयू के पूर्व छात्र चुनचुन कुमार, जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आईशी घोष, डोलन सामंता, विकास विजय, प्रिया रंजन, सुचेता तालुकदार, पंकज मिश्रा, योगेंद्र भारद्वाज और विकास पटेल के नाम शामिल हैं. दिल्ली पुलिस ने कहा कि इन सभी के खिलाफ सबूत जुटाने में सीसीटीवी कैमरों की मदद ली गई.5 जनवरी की शाम नकाबपोश हमलावरों ने किया था हमला

बता दें कि रविवार शाम जेएनयू कैंपस में नकाबपोश हमलावरों ने घुसकर छात्रों और प्रोफेसर की लोहे की रॉड और लाठी-डंडे से पिटाई की थी. इस दौरान उन्होंने जमकर तोड़फोड़ भी की थी. मारपीट में 34 छात्रों और प्रोफेसर को चोट आई थी. इस हिंसा के लिए एबीवीपी और लेफ्ट के समर्थन वाली स्टूडेंट यूनियन ने एक-दूसरे पर कसूरवार ठहराया था.

ये भी पढ़ें: JNU में हिंसा करने वालों की पहचान के बाद बोले VC- दोषियों को मिले सजा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 11, 2020, 12:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर