दिल्ली हिंसा: कड़कड़डूमा कोर्ट ने ताहिर हुसैन को 10 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली हिंसा: कड़कड़डूमा कोर्ट ने ताहिर हुसैन को 10 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा
AAP के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन. (फाइल फोटो)

दरअसल, ताहिर हुसैन पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा भड़काने के साथ-साथ आईबी कर्मचारी अंकित शर्मा (Ankati Sharma) की हत्या करने का आरोप है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2020, 4:48 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. कड़कड़डूमा कोर्ट ने आईबी कर्मचारी अंकति शर्मा (Ankati Sharma) के हत्यारोपी और आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) को 10 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. दरअसल, ताहिर हुसैन पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा भड़काने के साथ-साथ आईबी कर्मचारी अंकति शर्मा की हत्या करने का आरोप है. गौरतलब है कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में 24 और 25 फरवरी को जमकर हिंसा हुई थी. इस हिंसा में कई लोग मारे गए थे. वहीं, अंकित शर्मा का शव ताहिर हुसैन के घर के सामने स्थित नाले से मिला था. उनके शरीर पर चाकूओं से सैंकड़ों वार किए गए थे. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहा गया था कि अंकित शर्मा को दो अधिक लोगों ने तड़पा-तड़पा कर  मारा है.

बता दें कि बीते 11 मार्च को प्रवर्तन निदेशालय ने निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन, इस्लामी समूह पीएफआई और कुछ अन्य लोगों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग और दिल्ली हिंसा के लिए कथित रूप से धन मुहैया कराने के आरोपों के तहत मामले दर्ज किए थे. वहीं दिल्ली पुलिस ने हुसैन के तीन साथियों को गिरफ्तार किया था.





मालूम हो कि बीते चार मार्च को ताहिर हुसैन की अग्रिम जमानत याचिका पर कड़कड़डूमा कोर्ट में सुनवाई हुई थी. इससे पहले कड़कड़डूमा कोर्ट में ताहिर हुसैन खिलाफ नारेबाजी हुई. साथ ही ताहिर हुसैन के वकील ने पुलिस पर मनमाने तरीके से मामले की जांच करने का आरोप लगाया था. सुनवाई के दौरान बचाव पक्ष के वकील आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस उनके मुवक्किल का बयान दर्ज नहीं कर रही है.

 मेरे घर की छत पर चढ़ने की कोशिश कर रहे थे
वहीं,  न्यूज़ 18 इंडिया के साथ बातचीत में ताहिर हुसैन ने कहा था, 'सोशल मीडिया पर जो वीडियो चल रहा है, उसमें मैंने सिर्फ उन लोगों के लिए डंडा उठाया था, जो मेरे घर की छत पर चढ़ने की कोशिश कर रहे थे.' उन्होंने यह भी कहा था कि उन्‍हें सबसे बड़ा डर था कि कोई उनके परिवार को कुछ न कर दे. उनका कहना था कि वीडियो में कुछ लोग नीचे की ओर जा रहे हैं, उन्हें मैंने ही भगाया. उनको भगाने के लिए मैंने डंडा उठाया था.' वहीं, दिल्ली पुलिस के एसीपी अजीत कुमार सिंगला ने मंगलवार को कहा कि घटना की जांच के दौरान आरोपी आप पार्षद ताहिर की भी बात सुनी जाएगी.

ये भी पढ़ें- 

निर्भया को इंसाफ दिलाने के लिए मुफ्त में लड़ा था केस, खास अंदाज में मिली बधाई

निर्भया के दोषियों को फांसी, मेरठ की महिलाएं बोलीं- पवन जल्लाद पर है नाज़
First published: March 21, 2020, 4:10 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading