• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • 'बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना' में बड़ा बदलाव, पर्यटकों के लिए अब मकानों का इतने दिनों में होगा रजिस्ट्रेशन

'बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना' में बड़ा बदलाव, पर्यटकों के लिए अब मकानों का इतने दिनों में होगा रजिस्ट्रेशन

दिल्ली सरकार ने पर्यटकों की लुभाने वाली महत्वाकांक्षी बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना में बड़ा बदलाव किया है.

दिल्ली सरकार ने पर्यटकों की लुभाने वाली महत्वाकांक्षी बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना में बड़ा बदलाव किया है.

दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने पर्यटकों की लुभाने वाली (Promote Tourism) महत्वाकांक्षी बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना (Bed and Breakfast Scheme) में बड़ा बदलाव किया है. अब बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना के तहत मकानों का 90 दिन के बजाय 30 दिन में ही रजिस्ट्रेशन (Reduces Registration Process) मिल जाएगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने पर्यटकों की लुभाने वाली (Promote Tourism) महत्वाकांक्षी ‘बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना’ (Bed and Breakfast Scheme) में बड़ा बदलाव किया है. अब ‘बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना’ के तहत मकानों का 90 दिन के बजाय 30 दिन में ही रजिस्ट्रेशन (Reduces Registration Process) मिल जाएगा. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने विधानसभा के मानसून सत्र के अंतिम दिन सदन में यह प्रस्ताव रखा, जिसे सदन ने पारित कर दिया. इस मौके पर सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए दिल्ली सरकार की यह एक महत्वपूर्ण स्कीम है.

विदेशी पर्यटकों के लिए घरों का रजिस्ट्रेशन हो जाएगा आसान
बता दें कि इस स्कीम के तहत पर्यटक विशेषकर विदेशी पर्यटक भारतीय पारंपरिक परिवार एवं भारतीय संस्कृति का अनुभव करने के उद्देश्य से भारतीय परिवार के साथ उनके घर में रुकते हैं. इस योजना में अधिक से अधिक घरों को शामिल किया जा सके इसके लिए दिल्ली सरकार ने इसमें बदलाव करते हुए रजिस्ट्रेशन की पूरी प्रक्रिया को 90 दिन से घटाकर 30 दिन कर दी है. साथ ही मकान मालिकों को सर्टिफिकेट लेने दफ्तरों में नहीं जाना होगा बल्कि उन्हें ऑनलाइन सर्टिफिकेट उपलब्ध करवा दिया जाएगा.

Delhi Government, reduces registration process, Bed and Breakfast Scheme, 90 days to 30 days, promote tourism, Dy. CM Manish Sisodia, Landlords, certificates online, monsoon session, Delhi Legislative Assembly, बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना, दिल्ली सरकार, पर्यटकों की लुभाने वाली योजना, मकानों का 90 दिन के बजाय 30 दिन में ही रजिस्ट्रेशन, विदेशी पर्यटक, मनीष सिसोदिया, केजरीवाल सरकार, इस योजना का लाभ ऐसे उठाएं

इस स्कीम के तहत पर्यटक भारतीय संस्कृति का अनुभव करने के उद्देश्य से घरों में रुकते हैं. (फाइल फोटो)

मकान मालिक ऐसे आवेदन कर सकते हैं
● जिनके यहां एक से छह कमरे तक खाली हो.
●पर्यटकों के लिए जरूरी सुविधाएं मौजूद हो.
●मकान मालिक का परिवार भी उस घर में रहता हो.
● मकान गेस्ट हाउस, लॉज या होटल की श्रेणी में न हो.

कोरोना काल में इस फैसले से काफी मदद मिलेगी
दिल्ली सरकार की इस योजना से न केवल पर्यटकों को फायदा होता है बल्कि ये मेजबानों की आमदनी का साधन भी होता है. कोरोना के बाद पर्यटन क्षेत्र को वापस मजबूत करने के साथ लोगों के रोजगार के साधन भी बढ़ेंगे. योजना में किए गए बदलाव से ना सिर्फ इज ऑफ डूइंग बीजनेस को बढ़ावा मिलेगा बल्कि आवेदन करने वालों को फास्ट डिलेवरी भी मिलेगी. अधिक से अधिक लोग आवेदन कर सकते हैं. साथ ही पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा.

Delhi Government, reduces registration process, Bed and Breakfast Scheme, 90 days to 30 days, promote tourism, Dy. CM Manish Sisodia, Landlords, certificates online, monsoon session, Delhi Legislative Assembly, बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना, दिल्ली सरकार, पर्यटकों की लुभाने वाली योजना, मकानों का 90 दिन के बजाय 30 दिन में ही रजिस्ट्रेशन, विदेशी पर्यटक, मनीष सिसोदिया, केजरीवाल सरकार, इस योजना का लाभ ऐसे उठाएं

कमरों को गोल्ड और सिल्वर नाम से दो श्रेणियों में रखा जाता है.

ये भी पढ़ें: गाजियाबाद की इस बहादुर लड़की ने साथियों सहित 30 की बचाई जान, लेकिन खुद बह गईं

अब तक इतने मकानों का हो चुका है रजिस्ट्रेशन
इस योजना में सुविधाओं की उपलब्धता और उनकी गुणवत्ता के आधार पर कमरों को गोल्ड और सिल्वर नाम से दो श्रेणियों में रखा जाता है. इसका विवरण पर्यटन विभाग की वेबसाइट पर भी अपलोड किया जाता है. पर्यटक वेबसाइट पर मकान मालिक का पूरा विवरण देख सकते हैं. इसके अलावा पर्यटक बिना किसी बिचौलिये के संपर्क में आये सीधे मकान मालिक से संपर्क साध सकते हैं. बेड एंड ब्रेकफास्ट योजना के तहत अबतक 347 मकानों के 1630 कमरे रजिस्टर्ड हो चुके है. सरकार द्वारा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए नियमों में बदलाव करने के बाद ये संख्या तेजी से बढ़ेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज