• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • दिल्ली में केजरीवाल-LG फिर आमने-सामने: जानिए अब किस मुद्दे पर ठन गई रार

दिल्ली में केजरीवाल-LG फिर आमने-सामने: जानिए अब किस मुद्दे पर ठन गई रार

एलजी अनिल बैजल की बुलाई बैठक पर CM अरविंद केजरीवाल ने सवाल उठाए हैं.

एलजी अनिल बैजल की बुलाई बैठक पर CM अरविंद केजरीवाल ने सवाल उठाए हैं.

Delhi Ncr News: एलजी अनिल बैजल ने कोविड को लेकर अधिकारियों की बैठक बुलाई, लेकिन इसकी सूचना सरकार को नहीं दी. इस पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने सवाल खड़े कर दिये, उन्होंने ट्वीट करके लिखा है कि 'निर्वाचित सरकार की पीठ के पीछे ऐसी समानांतर बैठकें आयोजित करना संविधान और एससीसीबी के फैसले के खिलाफ है.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजारीवाल और LG अनिल बैजल एक बार फिर से आमने-सामने आ गए हैं. इसकी वजह ये है कि एलजी ने सरकार को बिना सूचित किये अलग से कोविड को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक कर ली. इस बैठक को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल ने सवाल खड़े कर दिये, उन्होंने ट्वीट करके लिखा है कि ‘निर्वाचित सरकार की पीठ के पीछे ऐसी समानांतर बैठकें आयोजित करना संविधान और एससीसीबी के फैसले के खिलाफ है. हम एक लोकतंत्र हैं. लोगों ने मंत्रिपरिषद का चुनाव किया. यदि आपके कोई प्रश्न हैं, तो कृपया अपने मंत्रियों से पूछें. वरीय अधिकारियों से सीधी बैठक करने से बचें. केजरीवाल ने लिखा, ‘आइए लोकतंत्र का सम्मान करें, सर.’

Kejriwal-LG, face to face, CM Arvind Kejriwal, questions raised, Delhi-NCR News, News Updates केजरीवाल-LG, आमने-सामने, CM अरविंद केजरीवाल, उठाए सवाल, दिल्ली-एनसीआर न्यूज, न्यूज अपडेट

सीएम केजरीवाल और एलजी फिर से आमने-सामने आ गए हैं.

डिप्टी सीएम मनीष सिसौदिया की कड़ी प्रतिक्रिया

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने भी इस बैठक को लेकर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने ट्वीटर के जरिये कहा कि ‘संविधान और सुप्रीम कोर्ट जजमेंट के बावजूद चुनी हुई सरकार को दरकिनार कर कौन सा कोविड मैनेजमेंट हो रहा है यह?’ सिसौदिया ने कहा कि LG साहब को कहीं यह अधिकार नहीं है कि वो मुख्यमंत्री की पीठ के पीछे अफ़सरों की अलग से मीटिंग बुलाए. फिर ये मीटिंग किस अधिकार से और किस मक़सद से बुलाई गई है?

बता दें कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार और एलजी अनिल बैजल के बीच तनातनी की खबरें आती रहती हैं. कभी स्कूलों के फीस वृद्धि को लेकर तो कभी किसानों के आंदोलन के मुद्दे को लेकर। असल में, केजरीवाल सरकार को नीतिगत मामलों और किसी भी प्रस्ताव को राज्य में लागू करने से पहले एलजी की मंजूरी अनिवार्य है, ऐसे में दिल्ली सरकार और एलजी कई बार आमने-सामने आ जाते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज