लाइव टीवी

केजरीवाल सबके लिए फ्री करना चाहते हैं पब्लिक ट्रांसपोर्ट, पर बताई यह अड़चन
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 3, 2020, 3:33 PM IST
केजरीवाल सबके लिए फ्री करना चाहते हैं पब्लिक ट्रांसपोर्ट, पर बताई यह अड़चन
दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरा्न सीएम अरविंद केजरीवाल.

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने कहा कि वह महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा की सुविधा देने के आगे की सोच रखते हैं. हालांकि, उन्‍होंने सभी के लिए मुफ्त यात्रा में बजट को अड़चन बताया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2020, 3:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने देश की राजधानी दिल्‍ली में पब्लिक ट्रांसपोर्ट को लेकर बड़ी बात कही है. उन्‍होंने कहा कि उनका इरादा सभी दिल्‍ली वासियों के लिए सार्वजनिक परिवहन में मुफ्त यात्रा करवाने का है. उन्‍होंने NEWS18 के कार्यक्रम AGENDA DELHI में शिरकत करते हुए कहा कि पर्याप्‍त बजट होने की स्थिति में भविष्‍य में इसको लागू किया जा सकता है. दिल्‍ली की बसों में सिर्फ महिलाओं को मुफ्त यात्रा की सुविधा देने के मुद्दे पर उन्होंने महिलाओं को पहचानना आसान होता है. सीएम केजरीवाल ने यह भी कहा आइडियल ट्रांसपोर्टेशन के तहत छात्रों और सीनियर सिटीजन को भी फ्री राइड की सुविधा मिलनी चाहिए. उन्होंने स्‍पष्‍ट तौर पर कहा कि अगर बजट ने इसकी अनुमति दी तो ऐसा जरूर किया जाएगा.



'बिजली, शिक्षा और पानी पर मांग रहे वोट'केजरीवाल ने कहा कि वह दिल्ली में बिजली, शिक्षा और हॉस्पिटल के नाम पर वोट मांग रहे हैं. उन्होंने कहा कि वह शिक्षा में सबकुछ अच्छा करने का दावा नहीं करते, लेकिन 70 साल में सबसे बेहतर करने का प्रयास किया. कार्यक्रम के दौरान केजरीवाल को बीजेपी नेताओं द्वारा आतंकवादी और नक्सली कहे जाने के आरोपा पर भी जवाब दिया. उन्होंने कहा कि मैंने अपना तन, मन, धन देश के लिए न्योछावर कर दिया. इस दौरान उन्‍होंने अपनी सरकारी नौकरी छोड़ कर अन्ना आंदोलन में शामिल होने और अनशन करने का भी उल्‍लेख किया. केजरीवाल ने कहा कि उन्‍होंने अपनी जिंदगी दांव पर लगाई है.

बीजेपी के वादों पर कही ये बात
बीजेपी के चुनावी घोषणा पत्र में दिल्ली की छात्राओं को स्कूटी और साइकिल देने के सवाल पर उन्होंने बीजेपी शासित राज्यों के नाम गिना कर पूछा कि वहां बीजेपी ने ये सब क्यों नहीं दिया. मंदी पर केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार को सबसे पहले इस समस्या को सुलझाना चाहिए. इसपर पूरा देश उनका साथ देगा. केंद्र सरकार ब्रेन स्टार्मिंग राज्यों के साथ मिलकर करे. उन्होंने कहा कि केंद्र को डिमांड क्रिएट करनी चाहिए. दिल्ली में बिजली फ्री करने और मंदी के सवाल पर उन्होंने कहा कि हमने लोगों को महंगाई से जूझने की ताकत दी है. तीस हजार करोड़ हमने जनता की जेब में डाल दिया है.

ये भी पढ़ें: 

'यह गांधी और फिरोज खान की सरकार नहीं'- परवेश वर्मा के बयान पर भड़का विपक्ष

मस्जिद में एंट्री, खतना, दूसरे धर्म में शादी-इन मुद्दों पर होगी सुप्रीम सुनवाई

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 2:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर