लाइव टीवी

दिल्ली में खराब होती कानून-व्यवस्था पर चर्चा के लिए केजरीवाल ने अमित शाह से मांगा समय

भाषा
Updated: December 16, 2019, 3:03 PM IST
दिल्ली में खराब होती कानून-व्यवस्था पर चर्चा के लिए केजरीवाल ने अमित शाह से मांगा समय
अरविंद केजरीवाल ने अमित शाह से मांगा समय (फाइल फोटो)

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की बिगड़ी कानून-व्यवस्था (Law and order) को लेकर मैं बहुत चिंतित हूं. दिल्ली में तुरंत शांति बहाल की जानी चाहिए.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने सोमवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में बिगड़ती कानून-व्यवस्था पर चर्चा करने के लिए उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से समय मांगा है. केजरीवाल ने ट्वीट कर इसके बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि दिल्ली की बिगड़ी कानून-व्यवस्था (Law and order) को लेकर मैं बहुत चिंतित हूं. दिल्ली में तुरंत शांति बहाल की जानी चाहिए. इसके लिए मैंने गृह मंत्री अमित शाह जी से मिलने का समय मांगा है. लेकिन, सूत्रों का कहना है कि केजरीवाल ने शाह से मिलने का समय नहीं मांगा है.

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों की रविवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया के समीप न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में पुलिस के साथ झड़प हो गई. जिसमें प्रदर्शनकारियों ने डीटीसी की चार बसों और दो पुलिस वाहनों में आग लगा दी थी.  झड़प में छात्रों, पुलिसकर्मियों और दमकलकर्मी समेत करीब 60 लोग घायल हुए हैं.



कमीज उतारकर प्रदर्शन भी कियावहीं, पुलिस कार्रवाई के खिलाफ विश्वविद्यालय के छात्रों ने सोमवार को कड़कड़ाती ठंड में जामिया के प्रवेश द्वार के बाहर कमीज उतारकर प्रदर्शन भी किया. छात्रों ने दिल्ली पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. करीब 10 छात्रों के समूह ने अपने साथियों के साथ मिलकर ‘इंकलाब जिंदाबाद’ के नारे लगाए और छोटा मार्च निकाला. उन्होंने पुलिस की कथित बर्बरता की सीबीआई जांच कराए जाने की मांग की.

ये भी पढ़ें- 

आधार कार्ड लेकर वोट डालने पहुंचा 7 साल का बच्चा, वोटर लिस्ट में भी था नाम

दिल्ली की सत्ता में वापसी के लिए BJP ने बनाया प्लान, इन सीटों पर फोकस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 16, 2019, 2:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर