• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • KHALISTANI TERRORISTS BABBAR KHALSA ARE TARGETED GENERAL SECRETARY INDIAN WORLD FORUM CGNT

आतंकियों और बब्बर खालसा के निशाने पर हैं इंडियन वर्ल्ड फोरम के महासचिव!

(सांकेतिक तस्वीर)

भारत विरोधी खालिस्तानी आतंकियों और बब्बर खालसा संस्था के आतंकियों के खिलाफ अक्सर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आवाज उठाने वाली संस्था इंडियन वर्ल्ड फोरम के महासचिव पिछले कुछ समय से लगातार आतंकियों के निशाने पर हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत विरोधी खालिस्तानी आतंकियों (Khalistani Terrorist ) और बब्बर खालसा संस्था (Babbar Khalsa international ) के आतंकियों के खिलाफ अक्सर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आवाज उठाने वाली संस्था इंडियन वर्ल्ड फोरम (Indian World forum ) के महासचिव पिछले कुछ समय से लगातार आतंकियों के निशाने पर हैं. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Special cell ) के सूत्रों के मुताबिक इस तरह के कई इनपुट्स हाल फिलहाल में प्राप्त हुए हैं . इस मसले पर दिल्ली पुलिस (Delhi police) की स्पेशल सेल और केंद्रीय जांच एजेंसी एनआईए (NIA) के सूत्रों के मुताबिक इंडियन वर्ल्ड फोरम नाम की संस्था के महासचिव पुनीत सिंह चंडोक (Puneet Singh Chandhok) और उनकी संस्था द्वारा लगातार बयानबाजी के चलते वो फिर से विदेश में बैठे आतंकियों के रडार पर आ गए हैं.

हालांकि इस मामले की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के अधिकारी ने कुछ समय पहले ही इस मामले की जानकारी संबंधित जांच एजेंसी और केन्द्रीय गृह मंत्रालय (MHA) को लिखित तौर दे दी है. जल्द ही इस मामले की गंभीरता को देखते हुए गृह मंत्रालय द्वारा उचित कदम उठाने का निर्देश दिल्ली पुलिस या अर्धसैनिक बल को दिया जा सकता है. जिसके बाद उसकी सुरक्षा व्यवस्था (Security) को और ज्यादा बढ़ाने पर निर्णय लिया जा सकता है . हालांकि इस मसले पर औपचारिक तौर पर कुछ भी बोलने के लिए कोई भी संस्था तैयार नहीं है .

इसलिए हैं रडार पर
जांच एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक पुनीत सिंह चंडोक मुंबई और दिल्ली में के रहने वाले हैं , उन्होंने कुछ सालों के दौरान सिख फॉर जस्टिस (Sikh for Justice ) के प्रमुख गुरपतवंत सिंह पन्नू (Gurpatwant Singh Pannu ) और उसकी संस्था के खिलाफ दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल में कई मामले दर्ज करवाए थे जिसके बाद उसी मामले पर केंद्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने कार्रवाई करते हुए कई अन्य आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है. इसके साथ ही कई मामलों पर अभी भी एनआईए में जांच की जा रही है. इन्हीं वजह से खालिस्तान की मांग करने वाले कई आतंकी और प्रतिबंधित संस्था बब्बर खालसा द्वारा खुलेआम पुनीत सिंह चंडोक और पूरे परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी जा चुकी है, जो दिल्ली पुलिस के संज्ञान में लिखित तौर पर है.

करते हैं कई देशों का दौरा
पुनित सिंह चंडोक इंडियन वल्ड फोरम संस्था के लिए अक्सर देश में अलग- अलग राज्यों में और कई अन्य देशों में जाते रहते हैं. इस संस्था का मकसद ही है भारत देश के खिलाफ साजिश करने वाले वाले आतंकियों के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आवाज उठाना. इसके साथ ही भारत देश का अगर किसी नागरिक को विदेश में मदद की आवश्यकता हो तो उसके लिए मदद के लिए हरसंभव प्रयास करना , लेकिन पिछले कुछ सालों के दौरान अमेरिका, कनाडा, सहित कई अन्य देशों में खालिस्तानी सोच वाले कई लोग एक्टिव होना शुरू हुए थे जो भारत विरोधी आवाज बुलंद कर रहे थे. उनलोगों के खिलाफ ये संस्था और इस संस्था के महासचिव पुनीत सिंह चंडोक ने आवाज उठाना शुरू किया. साल 2018 में पुनीत सिंह चंडोक और दिल्ली के काफी चर्चित सिख नेता मंजीत सिंह जीके के उपर अमेरिका के कैलिफोर्निया में खालिस्तानी सोच वाले लोगों द्वारा हमला किया गया था . उसके बाद इस मामले पर कैलिफोर्निया की पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 23 अगस्त 2018 को तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी किया था . उसी दौरान पहली बार सिख फॉर जस्टिस संस्था के खिलाफ पहली बार विदेश में किसी भारतीय शख्स ने वहां मामला दर्ज करवाया था .

चलाया था ये अभियान
आरोप हैं कि पंजाब, दिल्ली सहित देश के कई इलाके में सिख फॉर जस्टिस संस्था द्वारा भारत विरोधी गतिविधियों को अंजाम देते हुए " रेफरेंडम 20- 20 " जैसे अभियान को चलाया गया था , लेकिन उन गतिविधियों के खिलाफ पुनित सिंह चंडोक और उनकी संस्था ने पूरे जोश के साथ विरोध किया था. आरोप ये भी हैं कि पन्नू ने दिल्ली -पंजाब में चल रहे किसान आन्दोलन के दौरान भी भारत विरोधी गतिविधियों को आगे बढ़ाने में हर संभव प्रयास किया था.