अपना शहर चुनें

States

बांग्लादेश से बुलवाकर नोएडा में करवाना चाह रहे थे अवैध रूप से किडनी ट्रांसप्लांट, दो पकड़े गए

किडनी रैकेट के दो आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं, तीन अभी फरार हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
किडनी रैकेट के दो आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं, तीन अभी फरार हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इस बारे में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (प्रशासन) शशि ने मामला दर्ज कराया था. उन्होंने बताया था कि बांग्लादेश से आकर कुछ लोग नोएडा के सेक्टर-62 के एक अस्पताल में अवैध रूप से किडनी प्रत्यारोपण का धंधा कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2021, 6:05 PM IST
  • Share this:
नोएडा. नोएडा पुलिस (Noida Police) ने दो ऐसे आरोपियों (Accused) को गिरफ्तार (Arrested) किया है जो नोएडा में अवैध तरीके से किडनी प्रत्यारोपित (kidney transplantation) करने वाले गिरोह से जुड़े थे. पुलिस के मुताबिक इस गिरोह में शामिल 3 बदमाश फिलहाल फरार हैं. इन दोनों बदमाशों को थाना फेस-3 पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इस गिरोह के फरार 3 बदमाशों की तलाश में पुलिस जुटी है. इस बारे में पुलिस कमिश्नर ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट भी किया है.

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने दी थी सूचना

जोन दो के पुलिस उपायुक्त हरीश चंदर ने बताया कि इस बारे में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (प्रशासन) शशि ने मामला दर्ज कराया था. उन्होंने थाना फेस-3 को बताया था कि बांग्लादेश से आकर कुछ लोग नोएडा के सेक्टर-62 के एक अस्पताल में अवैध रूप से किडनी प्रत्यारोपण का धंधा कर रहे हैं. यह सूचना भी उन्होंने ही दी थी कि ये सभी आरोपी इसी थाने के एक गेस्ट हाउस में रुके हुए हैं. उपायुक्त हरीश चंदर के मुताबिक, इस सूचना के बाद पुलिस सक्रिय हो गई. उसने मामले की जांच के क्रम में शुक्रवार को बांग्लादेश के अहमद शरीफ और बिहार के वाजिद हक को गिरफ्तार किया. ये दोनों बिचौलिए एक गेस्ट हाउस में रुके हुए थे.



इस बारे में गौतमबुद्ध नगर के पुलिस कमिश्नर ने ट्वीट कर जानकारी दी.
इस बारे में गौतमबुद्ध नगर के पुलिस कमिश्नर ने ट्वीट कर जानकारी दी.

तीन फरार आरोपियों की तलाश में जुटी है पुलिस

पुलिस उपायुक्त के मुताबिक, अवैध रूप से किडनी ट्रांसप्लांट करने के इस धंधे में शामिल मोहम्मद कबीर हुसैन, सब्बीर और अब्दुल मन्नान फरार हैं. पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है. उपायुक्त ने बताया कि जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि एक शख्स की किडनी खराब है. शरीफ और वाजिद आदि ने बांग्लादेश से उन्हें किडनी बदलवाने के लिए नोएडा बुलाया है. ये लोग नकली दस्तावेज के आधार पर खून का रिश्ता बताकर किडनी का ट्रांसप्लांट करवाना चाह रहे थे. बांग्लादेश से बुलाए गए शख्स का नाम मोहम्मद कबीर है. डीसीपी ने बताया कि पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि क्या इससे पूर्व भी इस गिरोह ने अवैध रूप से किडनी ट्रांसप्लांट करवाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज