• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Kisan Aandolan: सुरक्षाकर्मियों ने लगाई कोरोनेशन पार्क में लोगों की एंट्री पर रोक, जानें वजह

Kisan Aandolan: सुरक्षाकर्मियों ने लगाई कोरोनेशन पार्क में लोगों की एंट्री पर रोक, जानें वजह

सिंघू बॉर्डर पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. (ANI)

सिंघू बॉर्डर पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. (ANI)

दिल्ली (Delhi) के बुराड़ी इलाके में स्थित ऐतिहासिक कोरोनेशन पार्क (Coronation Park) में आने वाले लोगों को बीते कुछ दिन से सुरक्षा स्टाफ प्रवेश देने से इनकार कर रहा है. इसकी वजह बताई जा रही है कि परिसर में अर्द्धसैनिक बल के जवान ठहरे हुए हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. उत्तर पश्चिमी दिल्ली (Delhi) के बुराड़ी इलाके में स्थित ऐतिहासिक कोरोनेशन पार्क (Coronation Park) में आने वाले लोगों को बीते कुछ दिन से सुरक्षा स्टाफ प्रवेश देने से इनकार कर रहा है. इसकी वजह बताई जा रही है कि परिसर में अर्द्धसैनिक बल के जवान ठहरे हुए हैं. यह ऐतिहासिक स्थल दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) के अधिकार में आता है. यह बुराड़ी मैदान के पास स्थित है. यह मैदान भी डीडीए का ही है. नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान बड़ी संख्या में बुराड़ी मैदान में डेरा डाले हुए हैं तथा यहां बड़ी संख्या में सुरक्षा बल की तैनाती की गई है.

    कोरोनेशन पार्क में ऐतिहासिक दिल्ली दरबार का आयोजन हुआ था। बारह दिसंबर 1911 को किंग जॉर्ज पंचम एवं क्वीन मैरी को भारत का शासक एवं महारानी घोषित किया गया था, ब्रिटिश राजशाही ने राजधानी कोलकाता से दिल्ली में स्थानांतरित करने की घोषणा भी यहीं की थी. इसके बाद 15 दिसंबर 1911 को महाराजा और महारानी ने राजशाही की नई राजधानी की आधारशिला रखी थी जिसे बाद में ‘नई दिल्ली’ नाम दिया गया. आजादी के बाद इस स्थल को एक उद्यान बना दिया गया.

    ये भी पढ़ें: कानपुर: कर्नल ने की बर्बरता की हद पार, नशीला ड्रिंक पिलाकर रशियन महिला से किया रेप, गिरफ्तार

    इतिहास प्रेमियों का पसंदीदा स्थल

    कोरोनेशन पार्क इतिहास प्रेमियों एवं युवा जोड़ों का पसंदीदा स्थल है. यहां हर साल 12 दिसंबर को बड़ी संख्या में लोग आते हैं. हालांकि शनिवार को, दिल्ली दरबार की 109वीं वर्षगांठ पर यहां आए लोगों को डीडीए के सुरक्षा एवं ग्राउंड स्टाफ ने ‘उद्यान परिसर में अर्द्धसैन्य बल के जवानों की मौजूदगी’ का हवाला देते हुए उलटे पैर लौटा दिया. ड्यूटी पर मौजूद डीडीए के सुरक्षा कर्मियों ने बताया, ‘किसानों का प्रदर्शन शुरू होने के तुरंत बाद सुरक्षा कर्मियों को यहां ठहरा दिया गया था. सुरक्षा कारणों से लोगों को यहां आने की इजाजत नहीं है’

    हालांकि, जब डीडीए के एक वरिष्ठ अधिकारी से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘ऐसा कोई आधिकारिक आदेश जारी नहीं किया गया है’. उन्होंने कहा, ‘‘हां, उस परिसर में कुछ सुरक्षाकर्मी हैं, जिन्हें वहां ठहराया गया है, लेकिन उद्यान के मैदान जनता के लिए खुले है. यह एक सार्वनजिक पार्क है तथा उनके लिए ही है. हम वहां मौजूद स्टाफ से कहेंगे कि किसी को भी उद्यान में प्रवेश करने से रोका न जाए’.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज