अपना शहर चुनें

States

किसान आंदोलन, CAA बवाल, यहां पढ़ें- दिल्ली में हिंसा का क्या है जनवरी कनेक्शन?

दिल्‍ली में 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्‍टर रैली के दौरान हुई हिंसा में कम के कम पुलिसवाले घायल (फाइल)
दिल्‍ली में 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्‍टर रैली के दौरान हुई हिंसा में कम के कम पुलिसवाले घायल (फाइल)

Delhi News: 26 जनवरी 2021 को जब देश गर्व से गणतंत्र दिवस (Republic Day) का उत्साह मना रहा था, तभी राजधानी दिल्ली (Kisan Tractor Rally Violence) प्रदर्शन की आग में जल रही थी. लेकिन ये पहला मौका नहीं है, जब जनवरी महीने में प्रदर्शन के नाम पर दिल्ली में हिंसा हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 28, 2021, 5:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. 26 जनवरी 2021 को जब देश गर्व से गणतंत्र दिवस (Republic Day) का उत्साह मना रहा था, तभी राजधानी दिल्ली (Delhi) प्रदर्शन की आग में जल रही थी. अपनी मांग को लेकर किसानों द्वारा किया जा रहा प्रदर्शन (Kisan Aandolan) उपद्रव का रूप ले चुका था. प्रदर्शनकारियों और उन्हें रोकने में लगे सुरक्षा बल के जवान, दोनों की ही जान खतरे में थी. उपद्रव में कई घायल हुए तो कुछ की जानें भी गईं. नुकसान दोनों तरफ हुआ. दरअसल, किसान केन्द्र सरकार द्वारा लागू किए गए नए कृषि कानून (जो फिलहाल डेढ़ साल के लिए सस्पेंड है) को खत्म करने की मांग कर रहे हैं. इस मांग के लिए दिल्ली की सीमाओं पर पिछले करीब 60 दिन से ज्यादा समय से किसान प्रदर्शन कर रहे हैं. इसी क्रम में 26 जनवरी को किसानों ने ट्रैक्टर मार्च का आयोजन किया था, जिसने हिंसक रूप अख्तियार कर लिया.

प्रदर्शनकारी लाल किले तक पहुंचे और वहां अपना झंडा भी फहराया. हजारों की संख्या में ट्रैक्टर से निकले किसानों को रोकने के लिए पुलिस ने बल प्रयोग किया, किसानों की ओर से भी पथराव और सुरक्षा बलों पर हमला किया गया. उग्र भीड़ के पुलिस पर हमले में अब तक 153 पुलिसकर्मियों के घायल होने की सूचना है. इस मामले में अबतक 22 एफआईआर दर्ज कर ली गई है. प्रदर्शनकारियों की ओर से कितने घायल हुए, इसका स्पष्ट आंकड़ा अब तक नहीं आया है. किसान आंदोलन व उसको रोकने के नाम पर देश की राजधानी दिल्ली में जो कुछ भी हुआ, उसके अपने-अपने मायने निकाले जा रहे हैं, लेकिन यदि बात दिल्ली में हिंसा या उग्र प्रदर्शन की बात करें तो उसका जनवरी महीने से एक खास कनेक्शन नजर आता है. किसान आंदोलन के नाम पर हुआ उपद्रव पहला मौका नहीं है, जब जनवरी महीने में प्रदर्शन के नाम पर दिल्ली में हिंसा हुई है.

CAA
फाइल फोटो.






सीएए का विरोध और हिंसा

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज