Home /News /delhi-ncr /

बैरिकेड्स हटाए जानें पर SKM का आया बयान, कहा- दिल्ली में आंदोलन जारी रखने को लेकर जल्द लेंगे निर्णय

बैरिकेड्स हटाए जानें पर SKM का आया बयान, कहा- दिल्ली में आंदोलन जारी रखने को लेकर जल्द लेंगे निर्णय

Kisan Andolan: टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर से बैरिकेड्स हटाने पर SKM ने बयान जारी किया है. (फोटो-साभार ANI)

Kisan Andolan: टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर से बैरिकेड्स हटाने पर SKM ने बयान जारी किया है. (फोटो-साभार ANI)

Kisan Andolan: संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर से बैरिकेड्स हटाने के मामले पर बयान जारी किया है. उनका कहना है कि अगर सरकार रास्ते खोलना चाहती है तो उसे किसानों की मांगों और उनसे बातचीत के लिए भी रास्ता खोलना होगा. सभी घटनाक्रम पर SKM की नज़र है. हम सही समय पर सामूहिक निर्णय लेंगे कि दिल्ली में आंदोलन जारी रहेगा या नहीं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) दिल्ली पुलिस (Delhi Police) द्वारा बैरिकेड्स (barricades) हटाए जाने पर बयान जारी किया है. एसकेएम ने कहा है कि किसानों ने सड़कों को अवरुद्ध नहीं किया है और सभी मोर्चा स्थलों पर दोनों तरफ से यातायात को जगह दी गई है. एसकेएम का कहना है कि यदि पूरे मार्ग को खोला जा रहा है, तो भारत सरकार भी किसानों के साथ बातचीत का रास्ता खोले और उनकी मांगों को पूरा करे. साथ ही SKM ने कहा है कि घटनाक्रम के आगे के आंकलन के आधार पर सामूहिक निर्णय लिया जाएगा.

शुक्रवार की रात को दिल्ली पुलिस ने टिकरी बार्डर पर यातायात के लिए 40 फुट के रास्ते को खोलने की कोशिश की, हालांकि इस पर प्रशासन और किसान नेताओं के बीच बातचीत बेनतीजा रही. दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना (Delhi police commissioner Rakesh Asthana) ने एक मीडिया साक्षात्कार में कहा कि वे यात्रियों के लिए सामान्य स्थिति बहाल करना चाहेंगे. कुछ समय के लिए इलाके में तनाव बढ़ गया था, और किसानों ने मोर्चा स्थल की सुरक्षा बढ़ा दी थी. किसान इस ओर इशारा कर रहे हैं कि अब दुर्घटनाओं में प्रदर्शनकारियों के घायल होने और मारे जाने की संभावना बढ़ जाएगी.

मामले पर अन्य सुनवाई भी हुई है
यह स्पष्ट है कि भाजपा सरकारों की पुलिस अचानक सड़कों को अवरुद्ध करने में अपनी प्राथमिक भूमिका से दूर हटने की कोशिश कर रही है, जब उच्चतम न्यायालय ने इस साल दायर एक मामले में जांच शुरू कर दी है. यह ध्यान देने योग्य है कि न्यायालय द्वारा दिसंबर 2020 और जनवरी 2021 में अन्य संबंधित मामले पर अन्य सुनवाई भी हुई है.

मांगों को पूरा करने के लिए भी रास्ता खोलना होगा
SKM ने हमेशा कहा है कि पुलिस ने ही सड़कों को अवरुद्ध किया था, और जबरदस्ती और जल्दबाजी में बैरिकेड हटाने का विरोध कर रहे किसानों के रुख से इसकी पुष्टि होती है. एसकेएम ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि उसने पहले भी दोतरफा यातायात की जगह दी है और भविष्य में भी मोर्चा स्थलों पर ऐसा ही करेगा. SKM ने कहा कि अगर सरकार पूरी तरह से मार्ग खोलना चाहती है, तो उसे किसानों की मांगों को पूरा करने के लिए भी रास्ता खोलना होगा.

शांति बनाए रखें
किसान आंदोलन उसी स्थान पर जारी रहेगा या दिल्ली में कहां चलेगा? यह एक सामूहिक निर्णय है जो उचित समय पर लिया जाएगा. अभी के लिए, जैसा कि पहले की एक प्रेस विज्ञप्ति में साझा किया गया था, एसकेएम सभी घटनाक्रमों को देख रहा है और आंदोलन का हिस्सा रहे सभी नागरिकों से अपील करता है की वे शांति बनाए रखें, और किसी भी उकसावेपूर्ण कार्यवाही से उत्तेजित न हों.

Tags: Delhi UP Ghazipur Border, Kisan Andolan, SKM, Tikri Border

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर