दिल्‍ली में फिर बढ़ रहे केस, जानिए कहां है 10 हजार बेड वाला कोविड केयर सेंटर 

दिल्ली सरकार ने अपने अस्पतालों में बेड्स की संख्या को बढ़ाने का फैसला किया है. हालांकि दिल्‍ली का सबसे ज्‍यादा 10 हजार बेड वाला कोविड केयर सेंटर कम अस्‍पताल अभी बंद है.   (कॉन्सेप्ट इमेज)

दिल्ली सरकार ने अपने अस्पतालों में बेड्स की संख्या को बढ़ाने का फैसला किया है. हालांकि दिल्‍ली का सबसे ज्‍यादा 10 हजार बेड वाला कोविड केयर सेंटर कम अस्‍पताल अभी बंद है. (कॉन्सेप्ट इमेज)

पिछले साल दिल्‍ली में पांच जुलाई को खोले गए छतरपुर स्थित 10 हजार बेड वाले सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर को अभी मार्च 2021 में ही बंद किया गया है. हालांकि एक महीने बाद ही दिल्‍ली में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए इसके एक बार फिर खुलने की अटकलें लगाई जा रही हैं.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. राजधानी में एक बार फिर कोरोना (Corona) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. जिसे लेकर राज्‍य सरकार का कहना है कि देश में भले ही दूसरी लहर हो लेकिन दिल्‍ली में यह चौथी लहर है. इसके अलावा दिल्‍ली में एक बार फिर से अस्‍पतालों में कोविड सामान्‍य बेड और आईसीयू बेड (ICU Beds) भी बढ़ाए गए हैं.

पिछले साल मार्च में हुए लॉकडाउन (Lockdown) के बाद दिल्‍ली में कोविड केयर (Covid Care) या क्‍वेरेंटीन सेंटर बनाने पर जोर दिया गया था और इसी क्रम में दिल्‍ली के छतरपुर में सबसे क्‍वेरेंटीन सेंटर भी बनाया जा चुका है. केंद्र सरकार के सहयोग से बने इस सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर एवं हॉस्पिटल (Sardar Patel Covid Care Centre and Hospital) की देखरेख का जिम्‍मा भी दिल्‍ली के अधिकारियों और आईटीबीपी (ITBP) को सौंपा गया था. 10 हजार 200 बेड के इस अस्‍पताल में कोरोना मरीजों के उपचार के लिए सभी उपकरण रखे गए थे. पांच जुलाई को इसे शुरू किया गया था.

राधास्‍वामी सत्‍संग ब्‍यास (Radhaswami Satsang) में बने इस केयर सेंटर कम अस्‍पताल में 10 डेडिकेटेड केयर लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस, एक्‍स रे, ऑक्सिजन सिलिंडर, बाई फेसिक डेफिब्रिलेटर कम्‍प्‍लीट, पल्‍स ऑक्‍सीमीटर, सक्‍शन मशीन और बाई पैप मशीन आदि रखे गए थे. ताकि लोगों को क्‍वेरेंटीन के दौरान ही अस्‍पताल की सुविधाएं भी दी जा सकें. हालांकि इस अस्‍पताल को दिल्‍ली में कोरोना के केस कम होने के बाद बंद कर दिया गया था.

करीब 12 हजार से ज्‍यादा मरीजों को ठीक करने वाले इस कोविड केयर सेटर कम अस्‍पताल को 23 फरवरी को बंद करने के बारे में जानकारी दी गई थी. 2021 की शुरुआत में दिल्‍ली में कोरोना के मामलों में आई कमी को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इसे बंद करने का फैसला किया था. केंद्र की ओर से कहा गया कि इसे सभी मरीजों के निकलने के बाद मार्च की शुरुआत तक बंद कर दिया जाएगा.
इस संबंध में न्‍यूज 18 हिंदी ने जब दिल्‍ली सरकार स्‍वास्‍थ्‍य विभाग से जानकारी मांगी तो बताया गया कि इसे बंद कर दिया गया है. मार्च से लेकर अभी अप्रैल तक यह अस्‍पताल पूरी तरह बंद है. फिलहाल इसे खोलने को लेकर भी कोई फैसला नहीं किया गया है. हालांकि दिल्‍ली में अगर इसी तरह मामले बढ़ते गए और घरों में क्‍वेरेंटीन करने के बजाय सेंटरों में करने की जरूरत पड़ी तो इस पर कोई फैसला लिया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज