Explained: जानिए कितना अहम है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वाराणसी दौरा...

प्रधानमंत्री का वाराणसी दौरान उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए भी काफी अहम माना जा रहा है. (फाइल फोटो)

Varanasi में प्रधानमंत्री कई परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे, इसी के साथ करोड़ाें रुपये की परियोजनाओं की शुरुआत भी करेंगे. हालांकि उनका ये दौरा उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए राजनीतिक तौर पर भी काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी को बड़ी सौगात देंगे. वे न केवल वहां कई करोड़ों की परियोजनाओं की शुरुआत करेंगे, बल्कि वाराणसी को एक नई पहचान यानी वहां इंटरनेशनल को ऑपरेशन एंड कन्वेंशन सेंटर का भी उद्घाटन करेंगे, जिसका नाम रूद्राक्ष रखा गया है. अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश के चुनावों को देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी के इस दौरे को बहुत महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

पीएम नरेंद्र मोदी का वाराणसी से प्रेम किसी से छिपा नहीं है. वे न केवल वहां के सांसद हैं, बल्कि वाराणसी को लेकर बेहद संवेदनशील भी हैं. कोरोना के कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लंबे समय से अपने संसदीय क्षेत्र से दूर रहे. हालांकि इस दौरान भी उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए वाराणसी और वहां के लोगों के साथ अपना जुड़ाव बनाए रखा. अब कोरोना को लेकर देश के बड़े हिस्से में स्थितियां थोड़ी सामान्य हो रही हैं तो पीएम एक बार फिर गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र के दौरे पर रहेंगे. सुबह 11 बजे प्रधानमंत्री बीएचयू में 100 बैड की सुविधा, गौदोलिया में मल्टी लेवल पार्किंग, गंगा नदी पर रो- रो वैसल, वाराणसी-गाजीपुर हाईवे पर तीन लेन के फ्लाईओवर समेत कुछ और परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे. साथ ही कई सौ करोड़ की नई परियोजनाओं की शुरुआत करेंगे.

दोपहर सवा 12 बजे के करीब पीएम मोदी जापान की सहायता से बनाए गए इंटरनेशनल को ऑपरेशन एंड कन्वेंशन सेंटर का भी उद्घाटन करेंगे जिसका नाम रूद्राक्ष रखा गया है. दो बजे के करीब वो बीएचयू के मातृत्व एवं बाल विकास केंद्र का भी दौरा करेंगे.

पीएम नरेंद्र मोदी का ये दौरा राजनीतिक रूप से भी बेहद अहम है. 2014 में जब प्रधानमंत्री के लिए चुनाव क्षेत्र का चयन किया जा रहा था, तब भी राजनीतिक रणनीतिकारों के जहन में ये बात थी कि ऐसी कौन सी सीट चुनी जाए, जिससे एक बड़ा राजनीतिक संदेश जाए. इसी को ध्यान में रखते हुए वाराणसी का चयन हुआ था. पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय काल में वाराणसी में भारी बदलाव हुआ है और विकास की अनेक नई और कई रुकी हुई परियोजनाएं पूरी हुई हैं. अब उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव सामने है, अगले साल होने वाले इस चुनाव के लिए सभी ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. पीएम के दौरे से बीजेपी को उम्मीद है कि एक बार उनके कार्यकर्ताओं को चार्ज करने में बड़ी मदद मिलेगी.

दरअसल बीजेपी को मालूम है कि पीएम जब भी वाराणसी आते हैं, तो वे सिर्फ उनके संसदीय दल का दौरा नहीं होगा बल्कि वहां से पूरे प्रदेश में एक संदेश जाता है. कोरोना की दूसरी लहर के दौरान देश के लगभग हर राज्य में लोगों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ा. उत्तर प्रदेश भी इससे अछूता नहीं रहा. हालांकि उसके बाद जिस तेजी से यूपी सरकार ने स्थिति को संभाला और अब पीएम के दौरे के दौरान मिलने वाली ऊर्जा से पार्टी को उम्मीद है, कि जनता में एक सकारात्मक संदेश जाएगा. बीजेपी ने 2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत हासिल की थी. अब पार्टी को उम्मीद है कि सरकार के कामकाज और पीएम नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता के सहारे एक बार फिर अपनी सरकार आसानी से बनाने में कामयाब होगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.