लाइव टीवी

कोविड-19: कैदियों को कम करने के लिए दोषियों को विशेष पैरोल देगी दिल्ली सरकार
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: March 23, 2020, 1:28 PM IST
कोविड-19: कैदियों को कम करने के लिए दोषियों को विशेष पैरोल देगी दिल्ली सरकार
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस के कारण कैदियों की संख्या घटाने का फैसला किया है. (फाइल फोटो)

आम आदमी पार्टी (Aam Aadami Party) सरकार ने दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) को सोमवार को बताया कि उसने कोरोना वायरस के प्रसार पर लगाम लगाने के लिए कैदियों की संख्या घटाने का फैसला किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2020, 1:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी (Aam Aadami Party) की अरविंद केजरीवाल सरकार ने दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) को सोमवार को बताया कि उसने कोरोना वायरस के प्रसार पर लगाम लगाने के लिए कैदियों की संख्या घटाने का फैसला किया है. दोषियों को विशेष पैरोल और फरलो का विकल्प उपलब्ध करा कर सरकार अपनी जेलों से कैदियों की संख्या घटाएगी.

जेल नियमों में संशोधन करेगी सरकार
दिल्ली सरकार ने न्यायमूर्ति हिमा कोहली और न्यायमूर्ति सुब्रमण्यम प्रसाद की पीठ को बताया कि वह विशेष पैरोल और फरलो देने के विकल्पों के लिए अपने जेल नियमों में संशोधन करेगी. दिल्ली सरकार के अतिरिक्त स्थायी वकील अनुज अग्रवाल ने यह दलील दी और कहा कि इन दो नए प्रावधानों को शामिल करने के संबंध में जेल नियमों में संशोधन करने के लिए एक दिन के भीतर अधिसूचना जारी की जा‍एगी.

जरूरी कदम उठाने के दिए निर्देश



दलील पर गौर करते हुए पीठ ने दिल्ली सरकार से प्रस्तावित कदम को लागू करने के लिए सोमवार को जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए. इसी के साथ पीठ ने कोविड-19 वैश्विक महामारी के मद्देनजर जेलों को खाली कराने के संबंध में दो वकीलों की ओर से दायर याचिका का निस्तारण कर दिया.

23 से 31 मार्च तक दिल्ली में लॉकडाउन
कोरोना के बढ़ते कहर के बीच अब देश भर में राज्य सरकारें लॉकडाउन कर रही हैं. इसी क्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी खतरे को बढ़ता देख 23 से 31 मार्च तक के लिए राजधानी को लॉकडाउन करने का आदेश दिया है. अब इस अवधि में अनिवार्य और आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर सभी प्रतिष्ठान, निजी कार्यालय बंद रखे जाएंगे.

बॉर्डर सील
इसके साथ ही दिल्ली की सीमाएं भी सील कर दी गई हैं, जिसके चलते कोई भी ट्रक, बस या अन्य वाहन राजधानी में प्रवेश नहीं कर सकेगा. केवल अनिवार्य और आपातकालीन वस्तुओं को लाने वाले वाहनों को ही प्रवेश दिया जाएगा. रेलवे और मेट्रो की सेवाएं भी इस दौरान पूरी तरह से बंद रहेंगी. इसके साथ ही कंस्ट्रक्‍शन के सभी कामों पर रोक लगा दी गई है. सभी मंदिर व मस्जिद श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेंगे.

ये भी पढ़ें :- 

Coronavirus Lockdown: दिल्ली नोएडा बार्डर सील, सैकड़ों लोग फंसे

Fight against COVID 19: मेट्रो और रेल के बाद दिल्‍ली में Uber कैब भी बंद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 23, 2020, 1:07 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर